मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान प्रारंभ ,दिव्यांग जनों को कृत्रिम उपकरणों का वितरण - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान प्रारंभ ,दिव्यांग जनों को कृत्रिम उपकरणों का वितरण



मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान प्रारंभ ,दिव्यांग जनों को कृत्रिम उपकरणों का वितरण




जबलपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस पर शनिवार १७ सितंबर से जिले में ४५ दिन तक चलने वाले मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान की शुरुआत मॉडल स्कूल में दिव्यांगजनों को कृत्रिम उपकरणों के वितरण के लिये शिविर आयोजित कर की गई। केंद्र शासन के सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्रालय द्वारा जिला प्रशासन और कृत्रिम अंग निर्माण केंद्र (एलिम्को) के सहयोग से आयोजित इस शिविर में मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष डॉ जितेंद्र जामदार, विद्यायक अशोक रोहाणी, विधायक विनय सक्सेना, आयुक्त निःशक्तजन मध्यप्रदेश संदीप रजक, नगर निगम अध्यक्ष रिकुंज विज, कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी, सीईओ जिला पंचायत डॉ सलोनी सिडाना, समाज सेवी श्रीमति मिताली बनर्जी की मौजूदगी में सात दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, तीन दिव्यांगजनों को व्हीलचेयर, तीन दिव्यांगजनों को ट्राइसाइकिल, दो दिव्यांगजनों को सीपी चेयर, एक दिव्यांगजन को हियरिंग एड तथा दस दिव्यांगजनों को वैशाखी प्रदान की गई। शिविर में दिव्यांगजनों को निरामय स्वास्थ्य बीमा कार्ड भी वितरित किये गये। शिविर का शुभारम्भ माँ सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर दिव्यांग बच्चों द्वारा आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये। इस अवसर पर प्रभारी सयुंक्त संचालक सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण आशीष दीक्षित, जिला शिक्षा अधिकारी घनश्याम सोनी तथा निःशक्तजनों की सेवा के क्षेत्र में कार्य कर रहीं विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी भी मौजूद थे।

केंद्र एवं राज्य शासन की योजनाओं का शत प्रतिशत हितग्राहियों को लाभ पहुँचाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस से आयोजित किये जा रहे मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में आज पहले दिन जिले की ५३ ग्राम पंचायतों में हितलाभ वितरण शिविरों का आयोजन किया गया है। जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर भी लगाये जा रहे हैं। इसके साथ ही अभियान के पहले दिन आज राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित महिला स्व-सहायता समूहों की सदस्यों द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में निजी एवं सामुदायिक भूमि पर पौधारोपण भी किया जा रहा है।

पेज