कुएं में मिली मोपेड से बंधी लाश का राज फाश प्रेमिका ने पति के साथ मिलकर की थी हत्या - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

कुएं में मिली मोपेड से बंधी लाश का राज फाश प्रेमिका ने पति के साथ मिलकर की थी हत्या



कुएं में मिली मोपेड से बंधी लाश का राज फाश
प्रेमिका ने पति के साथ मिलकर की थी हत्या




जबलपुर । जिससे प्रेम प्रसंग चलाया, जिसके साथ अवैध संबंध बनाए उसी ने अपने पति के साथ मिलकर प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया. बरगी थाना अंतर्गत हुये अंधे हत्या काण्ड का खुलासा पुलिस ने ४८ घंटे में कर लिया. इस मामले में पुलिस ने एक महिला सहित ३ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. गौरतलब है की रविवार को संदिग्ध परीस्थितियों में बरगी थाना अंतर्गत पुलिस को कुएं में मोपेड से बंधी लाश मिली थी. जिसके शिनाख्त के बाद मामले की विस्तृत जांच करते हुए पुलिस आरोपियों तक पहुंची। बरगी पुलिस की पूछताछ में अवैध संबंधों में हत्या करने की बात सामने आई है। बरगी पुलिस ने आरोपियों के ३०२ का प्ररकण दर्ज किया है।

बरगी पुलिस थाने से प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक की पहचान राजेश विश्वकर्मा ३० साल निवासी मुकुनवारा थाना बरगी के रूप में हुई थी। मृतक के शरीर पर चोट के निशान एवं हाथ-पैर बंधे होने के कारण पुलिस ने हत्या के एंगल से जांच शुरु की. पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर हत्याकांड की जांच में थाना प्रभारी बरगी रितेश पांडे, एसआई शशिकला उइके, एसआई सतीश झारिया, राजेंद्र बिलोहा सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारियों को लगाया गया। जांच में जुटी पुलिस टीम को पता चला कि राजेश विश्वकर्मा घर से अनिल सिंगरहा से मिलने जाने की बात कहकर शाम को घर से निकला था। पुलिस ने लाल बिल्डिंग के समीप रहने वाले संदेही अनिल सिंगरहा और उसके मौसेरे भाई शंकर सिंगरहा से पूछताछ की, जिसमें पूरा हत्याकांड का खुलासा हो गया।

जिससे संबंध था उसी ने बुलाया.......


शंकर सिंगरहा ने पुलिस को बताया कि मृतक राजेश विश्वकर्मा के अवैध संबंध अनिल सिंगरहा की पत्नी भारती (परिवर्तित नाम) से थे। राजेश के पत्नी से अवैध संबंध होने के कारण अनिल परेशान रहने लगा था, जिसके कारण उसने पत्नी एवं शंकर सिंगरहा के साथ मिलकर राजेश की हत्या करने का प्लान बनाया। रविवार को अनिल की पत्नी ने राजेश को सारी रात के लिए अपने घर बुलाया। राजेश, महिला के पास पहुंचा और उसने दारू-चिकन वहीं खाया। रात करीब १२ बजे पत्नी ने फोन कर पति अनिल और देवर शंकर को बुलाया और उन्होंने हत्या करने के बाद लाश को कुआ में फेंक दिया था।

पेज