कांग्रेस की मैराथन में मची भगदड़ कई बच्चियां दबकर हुईं घायल - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

कांग्रेस की मैराथन में मची भगदड़ कई बच्चियां दबकर हुईं घायल

कांग्रेस की मैराथन में मची भगदड़
कई बच्चियां दबकर हुईं घायल




बरेली (एजेंसी)।

उत्तर प्रदेश के बरेली में मंगलवार सुबह कांग्रेस द्वारा आयोजित मैराथन में भगदड़ मच गई। सुबह 10 बजे हुई इस घटना में इसमें कई बच्चियां भीड़ में दब गईं। इसापुरी घटना मे जब मीडिया ने सवाल किए तो उनसे भी बदसलूकी की गई,और बाद मे कांग्रेस के जिम्मेदार नेताओ ने बेतुके बयान देकर खुद की किरकिरी करा ली।आइए जानते है क्या है पूरा मामला...

 दरअसल, बरेली में आयोजित मैराथन में जरूरत से ज्यादा भीड़ इकहठा कर ली गयी थी।भीड़ ज्यादा होने से आयोजक व्यवस्थाओं को संभाल नहीं सके। बिशप मंडल इंटर कॉलेज के मैदान में सुबह 10 बजे दौड़ शुरू होते ही आगे दौड़ रहीं बच्चियां धक्का लगने से गिर गईं।इसके बाद पीछे से आ रही भीड़ उन पर चढ़ गई। चीख-पुकार के बीच भगदड़ में कई बच्चियां घायल हुई हैं।घटना के कवरेज को लेकर कांग्रेस के नेता मीडियाकर्मियों से बदसलूकी पर उतारू हो गए ।

पूर्व मेयर का बेतुका बयान आया सामने

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर शहर की पूर्व मेयर और कांग्रेस नेता सुप्रिया ऐरन ने तो हद ही कर दी। उन्होंने कहा कि 

वैष्णो दैवी में भी भगदड़ मच सकती है, तो ये तो बच्चियों की भीड़ है।


 प्रियंका गांधी के लड़की हूं-लड़ सकती हूं मुहिम के तहत यह मैराथन आयोजित की गई थी। सुबह हजारों की संख्या में लड़कियां मैराथन में पहुंच गईं।मैराथन शुरू होते ही भगदड़ मच गई।आगे दौड़ रही कुछ बच्चियां धक्का लगने से गिर गई। इसके बाद पीछे आ रही भीड़ उन पर गिर पड़ी। कई बच्चियां नीचे दब गईं। इसे देख आयोजकों के हाथ-पांव फूल गए। चीख-पुकार के बीच किसी तरह उन्होंने बच्चियों को बाहर निकाला। इसके बाद ज्यादातर बच्चियों के परिजन उन्हें घर ले गए।

कांग्रेस की मैराथन रैली को लेकर सुरक्षा व्यवस्था में हुई चूक के सवाल पर कांग्रेसी नेता मीडिया कर्मियों से ही उलझ गए। पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन ने कहा कि

वैष्णो देवी में भगदड़ मच सकती है, तो ये तो बच्चियों की भीड़ है। ये इंसानी फितरत होती है,

लेकिन मैं मीडिया कर्मियों से धक्का-मुक्की के लिए माफी मांगती हूं।उन्होंने कहा

कि यह साजिश भी हो सकती है। कांग्रेस के बढ़ते जनाधार की वजह से इस तरह की साजिश हो सकती है।


पेज