अमेरिका : पाकिस्‍तान सरकार के साथ गंभीर बातचीत करने की जरूरत - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

अमेरिका : पाकिस्‍तान सरकार के साथ गंभीर बातचीत करने की जरूरत

वाशिंगटन । अमेरिकी सीनेटर रॉबर्ट मेनेंडेज ने कहा है कि पाकिस्‍तान ने उस तालिबान को सुरक्षित पनाह की पेशकश की, जबकि उसके आतंकवादियों ने हमारे अमेरिकी सैनिकों को मार डाला। ऐसे में हमें पाकिस्‍तान सरकार के साथ गंभीर बातचीत करने की जरूरत है। रॉबर्ट ने पाकिस्तान में अमेरिकी राजदूत के रूप में डोनाल्ड आर्मिन ब्लोम के नामांकन का स्वागत करते हुए कहा कि इमरान खान सरकार के साथ गंभीर बातचीत करनी होगी। जानकारी के अनुसार न्यूजर्सी के डेमोक्रेट सीनेटर रॉबर्ट मेनेंडेज ने कहा है कि इस्‍लामाबाद ने तालिबान को सुरक्षित पनाहगाह की पेशकश की। तालिबान के आतंकवादियों ने अमेरिकी सैनिकों को निशाना बनाया और मार डाला। मेनेंडेज पाकिस्तान, भारत और जर्मनी में राजदूत नामांकन पर विदेश संबंधों पर अमेरिकी सीनेट समिति की सुनवाई की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि पिछले महीने मैंने इस समिति को बताया था कि अफगानिस्‍तान में हमारे मिशन की असफलता के पीछे एक कारण पाकिस्‍तान की कई सालों तक डबल डीलिंग थी। पाकिस्तान में अमेरिकी राजदूत के रूप में ब्लोम के नामाकंन के बाद उन्‍होंने कहा कि अमेरिका-पाकिस्तान द्विपक्षीय संबंधों में हम आपके नामांकन का स्वागत करते हैं। यह समय विशेष रूप से चुनौतीपूर्ण बना हुआ है। वहीं भारत में अमेरिकी राजदूत के रूप में एरिक गार्सेटी के नामांकन के बारे में बोलते हुए मेनेंडेज ने कहा कि क्वाड के सदस्य के रूप में यूएस-जापान-ऑस्ट्रेलिया के साथ, भारत एक स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक को बनाए रखने में मदद करने में एक बड़ी भूमिका निभा रहा है। इसी साल सितंबर में अमेरिकी प्रशासन ने पहली बार व्यक्तिगत रूप से क्वाड शिखर सम्मेलन की मेजबानी की थी।