ममता सरकार की बढ़ी मुसीबत.. गोवा में पूर्व एमएलए सहित 5 नेताओं ने छोड़ी टीएमसी - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

ममता सरकार की बढ़ी मुसीबत.. गोवा में पूर्व एमएलए सहित 5 नेताओं ने छोड़ी टीएमसी

ममता सरकार की बढ़ी मुसीबत..

गोवा में पूर्व एमएलए सहित 5 नेताओं ने छोड़ी टीएमसी




नई दिल्ली 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को गोवा में बड़ा सियासी झटका लगा है। पूर्व विधायक लवू मामलातदार सहित तृणमूल कांग्रेस के पांच नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। ममता के नाम लिखे अपने पत्र में  उन्होंने कहा है, 

हम ऐसी पार्टी के साथ नहीं रहना चाहते जो गोवा को बांटने की कोशिश कर रही है।

 इस्तीफा देने वालों में लवू मामलातदार के अलावा राम मांडरेकर, किशोर परवार, कोमल परवार और सुजय मलिक का नाम शामिल है।

उन्होंने कहा, 

हम टीएमसी में इस उम्मीद के साथ शामिल हुए थे कि यह गोवा और गोवावासियों के लिए उज्जवल दिन लाएगी। लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि टीएमसी गोवा और गोवा के लोगों को नहीं समझ पायी है। 

तृणमूल छोड़ने वाले सदस्यों ने अपने त्याग पत्र में गोवा में ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर सवाल उठाया।

राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर के नेतृत्व वाले I-PAC का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, "जिस कंपनी को आप सभी ने गोवा में अपने अभियान के लिए काम पर रखा है, वह गोवा के लोगों को बेवकूफ बना रही है। वे गोवा के लोगों की नब्ज नहीं समझ पाए हैं।"

एक उदाहरण के रूप में, पार्टी के सदस्यों ने गोवा में हाल ही में शुरू की गई गृह लक्ष्मी योजना पर प्रकाश डाला, जिसके तहत तृणमूल ने राज्य की प्रत्येक महिला को हर महीने ₹ 5,000 प्रदान करने का वादा किया है। उन्होंने आरोप लगाया, "यह स्पष्ट रूप से इंगित करता है कि गोवा गृह लक्ष्मी योजना में आप सभी ने जिस कंपनी को काम पर रखा है, उसके चुनाव के लिए डेटा का एक संग्रह है, क्योंकि उनके पास जमीन पर कोई डेटा नहीं है।"

उन्होंने कहा, "जब टीएमसी सरकार पश्चिम बंगाल में महिलाओं के उत्थान में विफल रही है, तो हमें नहीं लगता कि यह गोवा के हमारी माताओं और बहनों के लिए कोई अच्छा काम करेगी।"