रेलवे में नौकरी दिलाने का सपना दिखाकर लगाया 15 लाख का चूना.. - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

रेलवे में नौकरी दिलाने का सपना दिखाकर लगाया 15 लाख का चूना..

रेलवे में नौकरी दिलाने का सपना दिखाकर लगाया 15 लाख का चूना..



जबलपुर मध्यप्रदेश

रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर दो नटवरलालों द्वारा 1500000 रुपए की ठगी करने का मामला जबलपुर में सामने आया है ठगी करने वाले शख्स इतने शातिर थे। कि उन्होंने अपने चंगुल में फंसे लोगों को एहसास भी नहीं होने दिया कि उनके साथ धोखाधड़ी की जा रही है। बड़े-बड़े वादे और तामझाम के साथ खुद को रेलवे का बड़ा अफसर बताते हुए दोनों जालसाजों ने बेरोजगारों को ऐसे सपने दिखाए की वह अपने आड़े वक्त में काम आने वाली जमा पूंजी लेकर खुद ब खुद ठगी का शिकार होने जालसाजों के दरवाजे जा पहुंचे।


PM मोदी का ट्विटर अकाउंट हुआ हैक...अब हैकर्स को पकड़ने लगा रहे एढ़ी छोटी का जोर


कहाँ का है ये पूरा मामला...

पूरा मामला मध्य प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर से है जहां पर नौकरी के नाम पर ठगे गए बेरोजगार युवकों ने केंट थाने पहुंचकर अपनी आपबीती सुनाते हुए जालसाजों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कराया है। ठगी का शिकार हुए जबलपुर बाजपेयी कम्पाउंड सदर में रहने वाले ईश्वानन्द स्वामी नामक व्यक्ति की माने तो उसने अपने मित्र कपिल के माध्यम से भोपाल निवासी पूरनसिंह इन्दोरिया को रेलवे में नौकरी के नाम पर लाखो रुपये दिए।  रुपये देने के बाद भी आरोपी कपिल और पूरणसिंह ने उसे नौकरी नहीं दिलाई और उसके साथ धोखाधड़ी की गई है। पुलिस ने पीड़ित के शिकायत पर धोखाधड़ी का मामला पंजीबद्ध कर लिया है और मामले की जांच कर रही है। 

विजय तिवारी - थाना प्रभारी केंट


आगे पढ़िए :- घर मे बना लज़ीज मुर्गा कैसे लाया मातम का पैगाम..पढ़िए पूरी खबर...


ट्रेनिंग से लेकर जॉइनिंग सर्टिफिकेट तक सब कुछ निकला फर्जी


रेलवे में नौकरी दिलवाने के नाम पर ठगी करने वाले जालसाज इतने शातिर थे कि उन्होंने पहले से ही पूरा चक्रव्यू तैयार कर रखा था उन्हें तलाश थी सिर्फ एक ऐसे व्यक्ति की जो मोटी रकम लेकर नौकरी पाने का इच्छुक हो। ठगों ने खुद को रेलवे का एक बड़ा अधिकारी बताते हुए यह पूरा कुचक्र रचा था पैसे लेने के बाद पीड़ित को बाकायदा ट्रेनिंग भी दिलवाई गई साथ ही साथ उसका विश्वास जीतने के लिए उसे जॉइनिंग लेटर भी दिया गया और इसी जॉइनिंग लेटर के विश्वास पर पीड़ित द्वारा ₹1500000 का भुगतान ठगों को किया गया।



ट्रेनिंग के लिए होटल में बुलवाया और जमा करवा लिए 3-3 लाख

ठगी का शिकार हुए दोनों पीड़ितों ने जानकारी देते हुए बताया कि 15 जून 2018 को आरोपी कपिल ने व्हाट्सएप के जरिए उनकी नौकरी का एक जॉइनिंग लेटर भेजा था इस लेटर में उन्हें टाटानगर साउथ ईस्ट रेलवे के विभाग में पदस्थ किए जाने की बात का उल्लेख था इसके बाद ठग का कपिल ने दोनों बेरोजगारों को जमशेदपुर टाटानगर बुलाकर ट्रेनिंग के नाम पर एक होटल में ठहराया था। जहां पर बकायदा दोनों पीड़ितों को उनके जॉब से संबंधित ट्रेनिंग भी दी गई। इसी ट्रेनिंग के नाम पर दोनों पीड़ितों से 3-3 लाख रुपये भी जमा करवाए गए थे।ट्रेनिंग खत्म होने के बाद पीड़ितों से कहा गया कि जल्द ही उन्हें फाइनल कॉल के लिए बुलाया जाएगा वह घर जाकर तैयारी पूरी कर ले लेकिन उन्हें क्या पता था की अब उनके पास पछताने के अलावा कुछ भी हाथ नहीं आने वाला है।


आखिर ऐसा क्या हुआ कि नेशनल लोक अदालत में हो गयी लात गुंसों की बरसात..


"क़िस्त बाय क़िस्त" ठगता गया 15 लाख रुपये...

पीड़ितों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ठग कपिल पीड़ितों के घर आया था जहां पर उनका विश्वास जीतते हुए ठगने शैक्षणिक योग्यता के साथ ₹100000 की पहली किस्त ली थी इसके बाद बात को आगे बढ़ाते हुए दोनों पीड़ितों का मेडिकल कराने की बात की गई जिसके लिए बकायदा दूसरी किस्त ₹64000 का भुगतान करवाया गया इसके बाद पीड़ित पीड़ितों से डीडी बनाने के नाम पर ₹120000 तीसरी किस्त ली गई वही नौकरी की फाइल आगे बढ़ाने के नाम पर कपिल ने अपने एक साथी पूरन सिंह इंदौरिया के खाते में 50-50 हजार रुपये ऑनलाइन बैंकिंग के नाम से जमा करवाएं। किस्तों में पैसा ठगने के दौरान पीड़ितों को शक ना हो इसके लिए बाकायदा जबलपुर रेलवे अस्पताल में दोनों का मेडिकल चेकअप कराया गया इसके बाद पीड़ितों को लखनऊ ले जाकर दूसरी औपचारिकताएं भी पूरी की गई।


नॉजवानों को नशे से सराबोर करने की थी तैयारी.. पुलिस ने बरामद किए 200 नशीले इंजेक्शन


विकास की कलम की अपील

विकास की कलम अपने जागरूक पाठकों से यह अपील करती है। कि वे सजग रहें। क्योंकि ऐसे जालसाज हर गली मोहल्लों में अपने नेटवर्क के जरिये जाल बिछाए बैठे है। जो सिर्फ इसी फिराक में रहते है कि कैसे न कैसे जरूरतमंद लोगों को बड़े विभाग में काम दिलाने के एवज में ठगी कर सकें। हैम समय समय पर इस गंभीर मुद्दों पर खबरें प्रकाशित कर साथ ही पीड़ितों की कहानी आप के सामने रखकर प्रयास करते है। कि आप उनके अनुभवों से  सीख ले सकें। लेकिन इन सबके बिश आप का जकरुक रहना ही  जालसाजों के खिलाफ सबसे बड़ा प्रहार होगा।

कैटरीना कैफ की हल्दी समारोह की फोटो हुई लीक..जानिए कैसा था समारोह