पीएम नरेंद्र मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट में हैकर्स ने की छेड़खानी - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

पीएम नरेंद्र मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट में हैकर्स ने की छेड़खानी

पीएम नरेंद्र मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट में हैकर्स ने की छेड़खानी 



रविवार कि तड़की सुबह प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से ये जानकारी दी गई की पीएम नरेंद्र मोदी का निजी ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया गया है।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के ट्विटर हैंडल को हैक कर हैकर्स के द्वारा एक ट्वीट भी किया गया, जिसमें दावा किया गया था कि

 'भारत ने आधिकारिक रूप से बिटकॉइन को कानूनी मान्यता दे दी है.' 

हालांकि कुछ क्षणों बाद इस शरारतपूर्ण ट्वीट को हटा दिया है और पीएम के अकाउंट को सुरक्षित कर लिया गया है। मामले की भनक लगते ही तत्काल प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने अपने ट्वीट में कहा,


 "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्विटर हैंडल से छेड़छाड़ की गई थी. इस मामले को ट्विटर के सामने उठाया गया है और अकाउंट को तुरंत सुरक्षित कर लिया गया है. जिस अवधि में अकाउंट से छेड़छाड़ की गई उस दौरान किए गए किसी भी ट्वीट को नजरअंदाज किया जाए." 


आगे पढ़िए:- पारिवारिक विवाद में आपा खो बैठे बड़े भाई ने की अपने ही छोटे भाई की हत्या


एक्शन में आई जांच एजेंसियां- लेटेस्ट टेक्नोलॉजी का कर रही इस्तेमाल


PM-Modi के टि्वटर अकाउंट में सेंधमारी की बात को लेकर कई जांच एजेंसियां एक्टिव मोड पर आ चुकी है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का टि्वटर अकाउंट हैक के बाद हैकर्स को धर दबोचने के लिए तरह तरह की रणनीति बनाई जा रही है। जांच एजेंसियों के सामने सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिरकार अकाउंट किसने हैक किया? 

इसकी जांच के लिए सरकार लेटेस्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रही है. सूत्रों ने बताया कि CERT-IN को इस काम में लगाया गया है और वो हैकिंग के सोर्स का पता लगाने का कोशिश कर रही है.


जरूर पढ़ें:- नशीले इंजेक्शन के जखीरे के साथ रंगे हाथ पकड़े गए दो आरोपी शहर में फैलाना चाहते थे नशीले इंजेक्शन का कारोबार


क्या है CERT-IN किस तरह से करती है काम


 CERT-IN केंद्र सरकार की एजेंसी है जो मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी के अधीन काम करती है. इसका काम भारत सरकार की हैकिंग और फिशिंग जैसे साइबर खतरों से निपटना है. ये एजेंसी भारतीय इंटरनेट डोमेन की सुरक्षा संबंधी काम भी देखती है.


देर रात 2:11 पर हैक हुआ था पीएम मोदी का अकाउं


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आधिकारिक ट्विटर हैंडर @narendramodi देर रात हैक हो गया था. रात 2 बजकर 11 मिनट पर इससे एक ट्वीट किया गया जिसमें दावा किया गया, 'भारत ने आधिकारिक रूप से बिटकॉइन को कानूनी मान्यता दे दी है और सरकार भी 500 बिटकॉइन खरीदकर लोगों को बांट रही है.' दो मिनट बाद ही इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया और फिर 2 बजकर 14 मिनट पर इसी तरह का एक और ट्वीट किया गया।

कुछ देर बाद उस ट्वीट को भी डिलीट कर दिया गया, लेकिन तब तक स्क्रीनशॉट वायरल हो चुके थे. करीब घंटेभर बाद 3 बजकर 18 मिनट पर पीएमओ ने ट्वीट कर बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी के ट्विटर हैंडल से छेड़छाड़ हुई थी, जिसे अब ठीक कर लिया गया है और मामले की जानकारी ट्विटर को दे दी गई है. पीएमओ ने कहा कि इस दौरान जो भी ट्वीट हुए, उन्हें नजरअंदाज किया जाना चाहिए।


15 दिसंबर से बदल जाएगा बैंक के खुलने और बंद होने का समय