पीएम आवास को लेकर राज्यपाल मंगू भाई की नाराजगी.. कहा-बंद कोठरी से कम नहीं है ग्रामीण अंचल के पीएम आवास - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

पीएम आवास को लेकर राज्यपाल मंगू भाई की नाराजगी.. कहा-बंद कोठरी से कम नहीं है ग्रामीण अंचल के पीएम आवास

पीएम आवास को लेकर राज्यपाल मंगू भाई की नाराजगी.. 
कहा-बंद कोठरी से कम नहीं है ग्रामीण अंचल के पीएम आवास



शहडोल मध्यप्रदेश

शहडोल में दो दिवसीय प्रवास पर आए एमपी के महामहिम मंगू भाई पटेल ने शुक्रवार को सर्किट हाउस में अधिकारियों से उनके कार्यों के विषय में बैठक के दौरान चर्चा की। इस दौरान अधिकारियों से करते हुए मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने ग्रामीण इलाकों एवं आदिवासी समुदाय के लिए बनाए जा रहे प्रधानमंत्री आवास की गुणवत्ता को लेकर अपनी नाराजगी व्यक्त की।


मध्य प्रदेश के महामहिम मंगू भाई पटेल ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि गरीबों के लिए घर एक बहुत बड़ा सपना होता है और प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर बनाए जा रहे मकान किसी बंद कोठरी से कम नहीं है। चारों तरफ से बंद इस मकान में हवा आने जाने के लिए कोई खिड़की तक नहीं बनाई गई है।


प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनाए जा रहे गरीबों के आशियाने को लेकर एमपी के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने दो टूक शब्दों में कह डाला कि इस तरह का आवास किस काम का जिसमें ना तो वेंटिलेशन है और ना ही ढंग का शौचालय।

अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि जब सरकार द्वारा शौचालय बनाने के लिए अलग से ₹12000 मिलते हैं तो फिर उन रुपयों का सही तरीके से इस्तेमाल क्यों नहीं किया जाता।


राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने अधिकारियों को इस व्यवस्था को दुरुस्त करने के सख्त आदेश दिए हैं उन्होंने कहा कि जब भी अगली बार ग्रामीण अंचल के दौरे पर आएंगे तो इन प्रधानमंत्री आवासों का निरीक्षण जरूर करेंगे लेकिन तब तक इन अव्यवस्थाओं का निराकरण कर दिया जाना चाहिए।

बैठक के दौरान सर्किट हाउस में मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने ग्रामीण अंचल में व्यापक रूप से फैल रहे नशे के कारोबार में भी संबंधित अधिकारियों से चर्चा की ।

वही ग्रामीण अंचल में कुपोषण का शिकार हो रहे बच्चे, ग्रामीणों को मिलने वाली चिकित्सकीय सुविधाएं एवं सिकल सेल बीमारी की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की।


पढ़ना न भूलें..वाह रे एमपी पुलिस...छत्तीसगढ़ जेल में बंद कैदी से एमपी में कर लिया गांजा बरामद..फर्जी प्रकरण की कलई खोलती ख़बर