Just dial सेे डाटा लेकर गेहूॅ खरीदी के नाम पर 45 लाख 70 हजार की धाखोधडी सायबर क्राइम ने किया गिरोह का खुलासा.. - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

Just dial सेे डाटा लेकर गेहूॅ खरीदी के नाम पर 45 लाख 70 हजार की धाखोधडी सायबर क्राइम ने किया गिरोह का खुलासा..


Just dial सेे डाटा लेकर गेहूॅ खरीदी के नाम पर 45 लाख 70 हजार की धाखोधडी  
सायबर क्राइम ने किया गिरोह का खुलासा..




खरीदारों की जानकारी जस्टडायल से प्राप्त करता था गिरोह

बारदाना एवं ट्राॅसपोर्ट के नाम पर एडवांस पेमेण्ट लेकर धोखाधडी करते है

तत्काल कार्यवाही कर आरोपीगणो के खातो मे 6 लाख 88 हजार रुपये फ्रीज किया गया।

उच्च आर्थिक रहन सहन वाले परिवार से है आरोपीगण

धोखधडी मे प्राप्त राशि से खरीदी गई टाटा नेक्शान कार

 पूर्व मे उत्तर प्रदेश की जिला पंचायत मे चुनाव उम्मीदवार रह चुका है आरोपी

धोखधडी पूर्वक ठगी गई कुल राशि मे से 19 लाख 88 हजार रुपये की मसरुका बरामद 



 पुलिस आयुक्त भोपाल श्री मकरन्द देउस्कर, अति. पुलिस आयुक्त भोपाल श्री इरशाद वली एवं पुलिस उपायुक्त श्री साॅई कृष्णा थोटा के द्वारा दिये गये निर्देश के पालन में अति. पुलिस उपायुक्त जोन-1 भोपाल श्री अंकित जायसवाल एवं सहायक पुलिस आयुक्त सायबर के मार्गदर्शन में सायबर क्राइम ब्रान्च जिला भोपाल की टीम द्वारा गेहू खरीदी के नाम पर 45 लाख 70 हजार रूपये की धोखाधडी करने वाले आरोपियो को गिरफतार किया गया है


जरूरी ख़बर :- सरकारी नौकरी मैं आवेदन करने का सुनहरा मौका जानिए आवेदन की तारीख से लेकर सारी प्रक्रिया


 दिनांक 03.12.2021 को आवेदक के द्वारा शिकायत की गई कि एसएम एक्सपोर्ट कंपनी के संचालको के द्वारा फरियादी को 1250 टन गेहूॅ प्रदाय करने के नाम पर गेहूॅ के ट्राॅसपोर्ट एवं बारदाना के ऐडवांस पेमेण्ट लेकर फरियादी के साथ 45 लाख 70 हजार रूपये की धोखाधडी करने  के संबंध में आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया था। प्राप्त आवेदन की जाॅच की गई जिसमें कुल 04 बैंक खातो में फरियादी से पैसा जमा कराया गया। बैंक से प्राप्त जानकारी के आधार पर बैंक खातो के उपयोगकर्ताओं एवं मोबाइल नंबरो के उपयोगकर्ताओं के विरूद्व अपराध क्र-319/2021 धारा 420 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।  


आगे पढ़िए :- पीएम मोदी के काशी दौरे के दौरान 12 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की बैठक जानिए क्या कहता है मोदी सरकार का मिजाज


मुख्य आरोपी अंशु सिंह एवं गोपाल सोमवंशी जस्ट डायल से इन्कवायरी देखकर अपने अन्य सहयोगियो के साथ मिलकर  फर्जी ट्राॅसपोर्ट कंपनी का संचालन करते है कॉलिंग के लिए डाटा  श्रन्ैज् क्प्।स् से लेते है आरोपीगण पहले गेंहू बेचने बाले से संपर्क करते है और पता लगाते है कि गेंहू का स्टॉक कहा है पता लगने के बाद खरीददार को कॉल करके गेंहू बेचने का ऑफर करते है अगर खरीददार खरीदने के लिए तैयार हो जाता है तो उसे स्टॉक वाली जगह भेज देते है जहां वह माल चेक करता है और डील फिक्स करते है फिर खरीददार को खाते भेजकर उनको एडवांस पैसे डालने के लिए बोलते हैैै।


सोशल मीडिया में लीक हुई कैटरीना कैफ और विक्की की रोमांटिक तस्वीरें


 खरीददार के पैसा डालते ही पैसा बैंक खातो में आने पर अन्य सहयोगियों दीपक कुमार, योगेश कुमार, एवं विवेक विक्रम  के साथ मिलकर तत्काल बैंक खाते से पैसा निकालने का काम करते है एवं नगद आहरण की लिमिट समाप्त होने पर अन्य बैंक खातो में पैसा ट्राॅसफर कर नगद निकाल लेते है। फरियादी द्वारा 45 लाख 70 हजार रुपये की राशि डाली गई थी जिसमे राशि का बटवारा किया जा कर आरोपीगणो द्वारा घटना के तत्काल बाद 1 टाटा नेक्सोन गाडी खरीदी है।


जबलपुर जिले में बच्चों को जबरन बाइबल पढ़ाने का मामला एनसीपीसीआर ने जांच रिपोर्ट में किया खुलासा पढ़िए क्या है पूरा मामला


सायबर क्राइम जिला भोपाल की टीम द्वारा अपराध कायमी के पश्चात तकनीकि एनालिसिस के आधार पर त्वरित कार्यवाही कर प्राप्त साक्ष्यो के आधार पर लखनऊ, फरुखाबाद उत्तर प्र्रदेश एवं ग्वालियर ,भोपाल मे दबिश देकर कुल 05 आरोपीगणो को गिरफतार  किया गया एवं आरोपीेगणों से प्रकरण में प्रयुक्त  06 मोबाइल फोन,  12 सिम कार्ड 13 एटीएम कार्ड, 02 चेक बुक, नगद राशि 2 लाख 10 हजार रूपये व घटना कारित कर अर्जित किये गये रूपयों से खरीदी गई टाटा नेक्साॅन कार को जप्त किया गया है। तत्काल कार्यवाही कर आरोपीयो के खातो मे 6 लाख 88 हजार रुपये फ्रीज किये गये है, इस प्रकार सायबर पुलिस टीम द्वारा लगभग 19 लाख रुपये की मशरुका जप्त की गई। 

श्री साॅई कृष्णा पुलिस उपायुक्त