तालिबान ने गलती से ताजकिस्तान की मौज.. दूतावास के खाते में गलती से ट्रांसफर हुई बड़ी रकम, ताजकिस्तान ने लौटाने से किया इंकार - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

तालिबान ने गलती से ताजकिस्तान की मौज.. दूतावास के खाते में गलती से ट्रांसफर हुई बड़ी रकम, ताजकिस्तान ने लौटाने से किया इंकार

तालिबान ने गलती से ताजकिस्तान की मौज.. 
दूतावास के खाते में गलती से ट्रांसफर हुई बड़ी रकम, ताजकिस्तान ने लौटाने से किया इंकार




काबुल


"सर मुंडवाते ही ओले गिरना" यह कहावत तो आप ने सुनी ही होगी। लेकिन तालिबान के साथ तो चरितार्थ होती नजर आ रही है। एक तो वैसे ही तालिबान में वित्तीय संकट है। ऊपर से यहां के होनहार  अधिकारियों ने एक बड़ी रकम गलती से ताजिकिस्तान ट्रांसफर कर दी। और अब जब गतली का अहसास हुआ तो रकम वापसी की दरख्वास्त भेजी जा रही है। लेकिन रकम वापसी की उम्मीद डूबती नज़र आ रही है। आइए जानते है क्या है पूरा मामला...



जानिए क्या है पूरा मामला....


प्राप्त जानकारी के अनुसार तालिबान ने गलती से ताजिकिस्तान स्थित अपने दूतावास के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर दिए, लेकिन अब ताजिकिस्तान इस पैसे को वापस लौटाने से मना कर रहा है।

गौरतलब हो कि ताजकिस्तान तालिबान का धुर आलोचक माना जाता है तालिबान ने करीब 8 लाख डॉलर (6 करोड़ रुपए से ज्यादा) ताजिकिस्तान में अफगानी दूतावास के अकाउंट में भेज दिए।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह पैसे अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी की सरकार द्वारा ट्रांसफर किए जाने थे। इस पैसे का इस्तेमाल ताजिकिस्तान में शरणार्थी बच्चों के लिए एक स्कूल के वित्तपोषण के लिए किया जाना था।


हालांकि, जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा किया और गनी देश से भाग गए तो, यह सौदा विफल हो गया। कुछ हफ्तों बाद, सितंबर में पैसे ट्रांसफर किए गए, 

लेकिन कुछ खबरों के मुताबिक, 4 लाख डॉलर के आसपास ही पैसे दिए है। उस समय तालिबान की ओर से भी इसपर कुछ नहीं कहा गया।

हालांकि, नवंबर आते-आते अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई और तब तालिबान ने ताजिकिस्तान की सरकार से संपर्क करके इसे वापस देने को कहा, तो ताजिकिस्तान के अधिकारियों ने यह मानने से साफ मना कर दिया।