जानिए ऐसा क्या हुआ कि, विधायक और जिलाध्यक्ष को ग्रामीणों ने गांव में घुसने से रोका - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

जानिए ऐसा क्या हुआ कि, विधायक और जिलाध्यक्ष को ग्रामीणों ने गांव में घुसने से रोका

 

जानिए ऐसा क्या हुआ कि,
विधायक और जिलाध्यक्ष को ग्रामीणों ने गांव में घुसने से रोका 



देवास MP

बागली विधानसभा के ग्रमीणों की नर्मदा सिंचाई योजना की मांग अब तूल पकड़ती जा रहीं हैं। शुक्रवार को ग्राम चापड़ा में भाजपा मंडल की बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में शामिल होने आएं क्षेत्रीय विधायक पहाड़सिंह कन्नौजे व भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव खंडेलवाल सहित अन्य नेताओं को किसानों ने गांव में प्रवेश तक नहीं करने दिया। नेताओं ने हाथ जोड़कर खूब विनती की व किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन नाराज किसानों ने विधायक व नेताओं की बात नहीं मानी, जिसके बाद बैठक लिए बिना ही विधायक और जिलाध्यक्ष को गांव के बाहर से वापस बेरंग लौटना पड़ा।

आपको बता दें, कि देवास की बागली विधानसभा खंडवा लोकसभा क्षेत्र में आती हैं व लोकसभा उपचुनाव को लेकर यहां राजनीतिक हलचल बड़ने लगी हैं। वहीं 15 साल से नर्मदा सिंचाई योजना की मांग कर रहें, किसानों का विरोध प्रदर्शन भी इस बार पुरजोर पर हैं। कोई भी राजनैतिक कार्यक्रम हो किसान अपना विरोध जताना नहीं चूक रहें हैं। दो दिन पूर्व प्रभारी मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया भी जब बागली पहुँची थी तो किसानों ने नर्मदा नहीं तो वोट नहीं व मुख्यमंत्री और प्रभारी मंत्री मुर्दाबाद के नारे लगाएं थे। विधानसभा के किसान मांग पूरी नहीं होने पर चुनाव बहिष्कार की चेतावनी भी दे चुके हैं।

मामले में जब विधायक पहाड़सिंह कन्नौजे से सवाल किया गया तो उन्होंने गोलमाल जवाब देते हुए कहां की यहां बैठक में देर हो रहीं हैं, इसलिए में दूसरी जगह आयोजित बैठक जा रहा हूँ लौटाकर वापस यहां आऊंगा। साथ ही उन्होंने कहा कि किसानो की मांग जायज हैं और मैं उनके साथ हूँ।



 पहाड़सिंह कन्नौजे ( विधायक, बागली )