सूरजपुर कलेक्टर की करतूत से भड़का आम जनता का गुस्सा.. चेकिंग के नाम पर युवक का मोबाइल तोड़ कर की पिटाई - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

सूरजपुर कलेक्टर की करतूत से भड़का आम जनता का गुस्सा.. चेकिंग के नाम पर युवक का मोबाइल तोड़ कर की पिटाई


सूरजपुर कलेक्टर की करतूत से भड़का आम जनता का गुस्सा..
चेकिंग के नाम पर युवक का मोबाइल तोड़कर.. की पिटाई







सूरजपुर छत्तीसगढ़


कहते हैं कुर्सी का रोब जब सर चढ़के बोलता है तो आम जनता की हालत बद से बदतर होने लगती है लेकिन यह आधुनिक युग की जनता है यहां तानाशाही करना काफी महंगा भी पड़ सकता है और यदि वीडियो वायरल हो जाए तो कुर्सी भी जा सकती है। आज की खबर में हम बात करेंगे छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले के डीएम रनवीर शर्मा के उस वायरल वीडियो के विषय में जिसमें वे अपने पद का रौब जमाते हुए बीच सड़क में एक युवक का मोबाइल तोड़ते हुए कैमरे में कैद हो गए हाय यह जानते हैं क्या है पूरा मामला...




मामला छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले से सामने आया है जहां पर जिले के कलेक्टर साहब इन दिनों काफी सुर्खियां बटोर रहे हैं इस बार इनकी नेक दिली या किसी अच्छे काम के लिए चर्चा नहीं हो रही बल्कि इनके द्वारा आवेश में की गई करतूत पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय बनी हुई है। सूरजपुर जिले के कलेक्टर रणबीर शर्मा का एक वीडियो वायरल होने के बाद बवाल मचा हुआ है। वायरल वीडियो में कलेक्टर एक युवक को थप्पड़ मारते और पुलिस वालों से पिटवाते नजर आ रहे हैं। कलेक्टर ने वीडियो रेकॉर्डिंग के संदेह में युवक का मोबाइल भी पटक कर तोड़ दिया। इसके वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोग उनके खिलाफ एफआईआर से लेकर उन्हें सस्पेंड तक करने की मांग कर रहे हैं। वीडियो पर मचे हंगामे के बाद कलेक्टर ने माफी मांगी है।




कब की है घटना क्या है पूरा मामला






सूरजपुर जिले के तानाशाह कलेक्टर की करतूत वाली यह घटना शनिवार दोपहर की है जब कलेक्टर लॉकडाउन का पालन कराने खुद गश्त पर निकले थे। इसी दौरान उनकी मुलाकात एक युवक से हुई। कलेक्टर ने उससे कुछ पूछा और फिर जाने दिया। वे खुद भी अपनी कार की ओर बढ़ने लगे। तभी उन्हें कुछ अंदेशा हुआ और घूम कर तेजी से युवक के पास पहुंचे। उसका मोबाइल मांगा और उसे सड़क पर पटक दिया। फिर युवक को एक जोरदार थप्पड़ लगाया।




कलेक्टर को लगा वीडियो बना रहा है युवक





सोशल मीडिया में वायरल हुए वीडियो को देखने पर यह बात साफ साफ नजर आ रही है की कलेक्टर रणवीर शर्मा को ऐसा लगा की शायद सामने खड़ा हुआ युवक उनकी वीडियो रेकॉर्डिंग कर रहा है। इसी संदेह में उन्होंने पुलिसकर्मियों को भी युवक की पिटाई करने का संकेत दिया। पुलिस वालों ने युवक पर लाठियां बरसा दीं। इसके बाद कलेक्टर यह कहते हुए गाड़ी में जाकर बैठ गए कि इसके खिलाफ एफआईआर कराओ।




युवक लगाता रहा गुहार... नहीं पसीजा कलेक्टर साहब का दिल





वीडियो को आप गौर से देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि सामने खड़ा हुआ युवक बार-बार कलेक्टर साहब से क्षमा याचना की गुहार लगा रहा है इतना ही नहीं युवक बार बाहर यह दोहरा रहा है कि वह कोरोना टेस्ट करवाने गया हुआ था लेकिन कलेक्टर साहब का मिजाज तो सातवें आसमान पर था लिहाजा उन्हें गरीब की गुहार सुनाई ही नहीं दी। बहरहाल घटना के थोड़ी देर बाद ही इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। कलेक्टर के व्यवहार से आक्रोशित लोग उन्हें निलंबित करने तक की मांग करने लगे। कई लोगों ने उन्हें पागल तक करार दिया और प्रदेश सरकार से उनके इलाज की व्यवस्था करने का अनुरोध किया।




कलेक्टर का बयान आया सामने हां कहा मैं शर्मिंदा हूं माफी मांगता हूं







कलेक्टर रणबीर शर्मा को लोगों के गुस्से का पता चला तो उन्हें मामला बिगड़ने का अंदेशा होने लगा। देर शाम उन्होंने बयान जारी कर कहा कि वे अपने व्यवहार से शर्मिंदा हैं। उन्होंने पिटाई खाने वाले युवक के साथ आम लोगों से भी माफी मांगी है। हालांकि, इससे पहले कलेक्टर ने अपनी बात सही भी साबित करने की कोशिश की। एक अखबार से बातचीत में कलेक्टर ने वीडियो के एडिटेड होने का आरोप भी लगाया था, लेकिन शाम होते-होते उन्हें अपनी गलती का अहसास हो गया।




पहले भी सामने आए हैं कलेक्टर साहब के कारनामे





कलेक्टर के माफी मांगने के बाद भी लोगों का गुस्सा कम नहीं हो रहा। वे उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। कलेक्टर शर्मा कई बार अपनी कार्यशैली को लेकर चर्चा में रहते हैं। साल 2015 में उन पर रिश्वतखोरी का आरोप भी लग चुका है। उन्हें एक पटवारी से 10 हजार रुपये रिश्वत लेने के आरोप में एंटी करप्शन ब्यूरो ने गिरफ्तार किया था। शर्मा उस समय भानुप्रतापपुर में सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट थे। उस समय शर्मा का ट्रांसफर भी किया गया था।

वायरल वीडियो देखने के लिए क्लिक करें