Breaking

शनिवार, 1 मई 2021

भोपाल के रियल हीरो जावेद... ऑटो को बना डाला एम्बुलेंस.. पत्नी के गहने बेच.. कर रहे मरीजों की सेवा..

भोपाल के रियल हीरो जावेद...
ऑटो को बना डाला एम्बुलेंस..
पत्नी के गहने बेच.. कर रहे मरीजों की सेवा..




कौन कहता है कि सेवा करने के लिए आपका अमीर होना जरूरी है बल्कि यदि जनसेवा का सच्चा जज्बा आपके मन में हो तो आप अपने सीमित साधनों पर भी मानवता की सेवा कर सकते हैं और इसी बात को चरितार्थ कर दिखाया है मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रहने वाले एक ऑटो चालक जावेद ने...

इस आपदा में हर कोई यही सोचता है कि काश फरिश्ते आसमान से उतरकर जमीन पर आते और लोगों कि जान बचाते . मगर कुछ फ़रिश्ते इस वक़्त जमीन पर ही मौजूद है, जो  लोगों कि दिल से सेवा कर रहे हैं।

अपनी आटो को ही बना डाला एंबुलेंस

भोपाल के रहने वाले जावेद ने मरीज़ों की मदद के लिए अपने ऑटो को एम्बुलेंस में तब्दील कर दिया है। ऑटो में ऑक्सिजन cylender रखकर मरीज़ों को निःशुल्क सवारी के साथ ऑक्सिजन ऑटो में ही मुहैया करा रहे  है। इसके अलावा ऑटो में संक्रमण से बचने के लिए प्लास्टिक की शीड लगाई हुई है और सैनेटाज़ड का इंतज़ाम रखा। 


पत्नी के गहने बेचकर कर रहे जनसेवा

यदि आप सोच रहे हैं कि भोपाल का ऑटो चालक जावेद आर्थिक स्थिति में काफी मजबूत है और वह अपनी जमा पूंजी से इस मानवता का धर्म निभा रहा है तो आप गलत है आपको जानकर हैरानी होगी की जावेद ने मरीज़ों की निशुल्क सवारी और ऑक्सिजन के इंतेज़ाम के लिए अपनी पत्नी का मंगलसूत्र तक बेच दिया है उनका कहना है कि इस महामारी में लोगों की मदद करना ही सबसे बड़ी मानवता है।


सोशल मीडिया पर डाला अपना नंबर


जहां एक और चारों तरफ मरीजों का अंबार लगा हुआ है और आलम यह है की हर गली और चौराहे में सिर्फ एंबुलेंस के सायरन ही गूंजते हैं । बावजूद इसके बहुत से ऐसे मरीज है जिन्हें समय पर एंबुलेंस सेवा ना मिल पाने के कारण उनकी मौत हो रही है इसी बात से व्यथित होकर ऑटो चालक जावेद ने यह फैसला किया कि वह अपने ऑटो में ही एंबुलेंस के साजो समान को लादकरकर खुद मरीज तक पहुंचेंगे और उसे समय पर अस्पताल पहुंच आएंगे इसके लिए बकायदा उन्होंने सोशल मीडिया में अपना नंबर भी डाल रखा है ताकि जरूरतमंद व्यक्ति उन्हें फोन कर इस निशुल्क ऑटो एंबुलेंस सुविधा का लाभ ले सके।

भोपाल के रियल हीरो जावेद...
जावेद के जज़्बे को सलाम...


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार