Breaking

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021

डॉक्टर ही बिकवा रहे थे ब्लैक में रेमडेसिवीर इंजेक्शन.. दो डॉक्टरों सहित पांच लोग गिरफ्तार

डॉक्टर ही बिकवा रहे थे
ब्लैक में रेमडेसिवीर इंजेक्शन..
दो डॉक्टरों सहित पांच लोग गिरफ्तार




एक और जहां पूरा देश  कोरोना संक्रमण  की भयावह स्थिति  से जूझ रहा है  वहीं दूसरी ओर  फ्रंटलाइन वारियर कहीं जाने वाले चिकित्सक इस आपदा को  भुनाने में  मशहूल दिख रहे हैं । इन दिनों कोरोना से लड़ने के लिए एक विशेष इंजेक्शन का नाम काफी मशहूर हो चला है। जिसे हम रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) के नाम से जानते हैं। आलम यह है की इस इंजेक्शन को पाने के लिए मरीज के परिजन किसी भी हद तक गुजर जाने को तैयार हैं और यही कारण है कि इस आपदा की घड़ी में इंजेक्शन का नाम सुनते ही मौका परस्तों की आंखों में चमक आ जाती है। ताजा हालातों की बात करें तो मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लेकर इंदौर तक इस इंजेक्शन की कालाबाजारी के चर्चे अब आम हो चुके हैं लेकिन जबलपुर जिले में तो इस कालाबाजारी की हद तब हो गई जब अस्पताल के चिकित्सक ही इस गोरखधंधे में लिप्त हो गए। आपको जानकर काफी आश्चर्य होगा की जबलपुर (Jabalpur) में एसटीएफ (STF) ने आज मुखबिर की सूचना पर दो डॉक्टर सहित 5 लोगो को गिरफ्तार किया है,एसटीएफ पुलिस ने आरोपियो के पास से 4 इंजेक्शन-6 मोबाईल और एक कार भी बरामद की है।


जानिए कैसे पुलिस के हत्थे चढ़े यह शातिर लोग


इंजेक्शन की कालाबाजारी को लेकर जिला प्रशासन काफी मुस्तैद है आए दिन आ रही शिकायतों के मद्देनजर खुफिया विभाग ने अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर रखा था इसी बीच जबलपुर एसटीएफ पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि दो व्यक्ति रेमडेसिवीर इंजेक्शन लेकर जीसीएफ के पास खड़े हुए है और ग्राहक की तलाश कर रहे है, यह सूचना जैसे ही एसटीएफ को मिली तो एक आरक्षक को ग्राहक बनाकर मौके पर भेजा गया जहाँ इंजेक्शन बेचते हुए दो युवक सुधीर और राहुल को गिरफ्तार किया, दोनो युवको से एसटीएफ ने 2 इंजेक्शन भी बरामद किए।


खुद डॉक्टरों की शह पर हो रहा था यह पूरा गोरखधंधा



एसटीएफ की गिरफ्त में आए दो शातिर संदिग्ध सुधीर और राहुल ने पूछताछ में एक चौंकाने वाला खुलासा किया पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि उनके एक साथी राकेश ने आशीष हॉस्पिटल में पदस्थ डॉ नीरज साहू और लाइफ मेडिसिटी हॉस्पिटल में पदस्थ डॉ जितेंद्र सिंह से ये इंजेक्शन प्राप्त किए थे और उन लोगो ने ही इंजेक्शन अच्छी कीमत में बेचने को कहा था, जानकारी के मुताबिक डॉक्टरों ने अस्पताल से इन इंजेक्शन को बचा लिया था और बाजार में अच्छी क़ीमत में बेचने की तैयारी कर रहा था।


लग्जरी कार के साथ बरामद किए 6 नग इंजेक्शन


जबलपुर एसटीएफ पुलिस ने डॉ जितेंद्र सिंह, डॉ नीरज साहू,राहुल विश्वकर्मा, राकेश मालवीय और सुधीर सोनी को गिरफ्तार करते हुए उनके पास से छह नग रेमडेसिवीर के इंजेक्शन बरामद किए, साथ ही पुलिस ने आरोपियों की एक लग्जरी कार को भी जब्त किया है,बताया जा रहा है कि एसटीएफ की पूछताछ में कई और अहम खुलासे हो सकते हैं बहरहाल पुलिस ने पांचों ही आरोपियों को रिमांड में लिया है।



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार