Breaking

मंगलवार, 27 अप्रैल 2021

स्वास्थ्य मंत्री के सामने हाथ जोड़कर युवती ने लगाई पिता के इलाज की गुहार

स्वास्थ्य मंत्री के सामने हाथ जोड़कर
युवती ने लगाई पिता के इलाज की गुहार



देवास मध्यप्रदेश


अपने अल्प प्रवास पर देवास पहुँचे स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने जिला अस्पताल का  निरीक्षण किया, इस दौरान उन्होंने पीड़ितों को दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवाओ का भी ज़ायज़ा लिया। स्वास्थ्य मंत्री के जिला अस्पताल में निरीक्षण के दौरान उस समय असमंजस की स्थिति बन गई जब एक युवती ने हाथ जोड़कर अपने पिता को उचित इलाज दिलाए जाने के लिए बार-बार गुहार लगाना शुरू कर दिया। इस दौरान युवती की फूट-फूट कर रोने लगी और हाथ जोड़कर बार-बार स्वास्थ्य मंत्री से कहने लगी सर प्लीज मेरी मदद कीजिए 

स्वास्थ्य मंत्री के सामने हाथ जोड़कर एक युवती ने लगाई गुहार, अपने पिता की ज़िन्दगी के लिए लगाई गुहार, पिता के बेहतर ईलाज के लिए लगाई गुहार, फुट फुट कर रोई युवती, हाथ जोड़कर बोली - प्लीज़ मेरी मदद कीजिये। युवती के निवेदन को गंभीरता से लेते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने युवती के पिता के बेहतर ईलाज़ के लिए CMHO और डाक्टरों को दिए निर्देश, 



स्वास्थ्य मंत्री देवास में जिला अस्पताल का निरीक्षण कर रहे थे और स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे थे। इसी दौरान निरीक्षण करते हुए वह लोगों से भी मिले जहां पर एक महिला वहां आयी और पिता की ज़िंदगी के लिए फुटकर रोने लगी। जो हाथ जोड़कर अपने पिता की जिंदगी के लिए गुहार लगा रही थी। लड़की का कहना था कि उसके पिताजी जिला अस्पताल में उपचाररत हैं। वह एडीएम, एसडीएम सबसे बात कर चुकी है बस उसके पिता को उपचार अच्छा मिले, और बेहतर उपचार के लिए उसे और अच्छी व्यवस्था है वहां पर चाहिए। जब लोगो ने रोते देखा तो उसे बताया कि यह स्वास्थ मंत्री है। यह वाकया जब हुआ तो कुछ देर समझने में लगे फिर सीएमएचओ ने महिला से चर्चा की। चर्चा में आश्वासन दिया कि जल्द इलाज होगा और उपचार जारी है। 

दरअसल जिला अस्पताल में कई लोग ठीक होकर जा रहे है तो कई सुविधाओं के आभाव में अपनी जान भी गवां रहे हैं ऐसे में जो व्यक्ति वहां भर्ती उसके परिजन हर सम्भव मदद ओर प्रयास कर रहे है। कैसे परिजन जल्द ठीक होकर लौट आये। इसी सिलसिले में महिला ने अपनी गुहार मंत्री जी से भी लगाई और तत्काल सीएमएचओ ने समस्या सुनकर उसपर संज्ञान लिया। वहीं स्वास्थ मंत्री ने अच्छे उपचार के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए।




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार