Breaking

शनिवार, 3 अप्रैल 2021

बागवानी के शौकीन हो जाएं सावधान भूलकर भी ना लगाएं घर में इस तरह के पौधे

बागवानी के शौकीन हो जाएं सावधान
भूलकर भी ना लगाएं घर में इस तरह के पौधे...





अपने घर को सुंदर पेड़ पौधोंंं से सजाना और चारों ओर हरियाली का वातावरण बनाना  आज के समय की जरूरत बन चुका है ।पर्यावरण के संरक्षण के लिए जरूरी है कि आप अपने आसपास अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाएं यही कारण है कि अब लोग अपने घरोंं में खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी पौधोंंं का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन आधुनिकता की दौड़ में जानकारी की कमी से लोग अक्ससर अपने घरों में कुछ इस तरह के पौधे लगा देते हैं जो फायदा ना देकर काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं आज के इस लेख मेंंंंंं हम जानेंगे कि आपको अपने घर के आस-पास किस तरह के पौधे लगाने चाहिए।

घर में पॉसिटिव एनर्जी के संचार में पेड़ों की विशेष अहमियत है। तुलसी पौधा तथा केले के पेड़ लगाने के बारे में तकरीबन सब जानते हैं। इसके साथ ही कुछ वृक्ष ऐसे होते हैं जिन्हें घर में नहीं लगाया जाना चाहिए। अगर लगाना ही हो तो उन्हें उस जगह पर लगाना चाहिए, जहां वृक्ष की छाया भवन पर न पड़े।

वास्तु के मुताबिक, गहरी जड़ वाले वृक्षों को घर में नहीं लगाना चाहिए। इससे घर की नींव कमजोर होती है। बरगद जैसे भारी जड़दार पेड़ों को घर में नहीं लगाएं। इसी तरह नींव तथा पीपल इत्यादि के अतिरिक्त जंगल में उगने वाले सभी घने एवं चौड़े पत्तेदार पेड़ों को घर में न लगाएं। ऐसे पेड़ यदि घर में लगे हुए हैं तो इन्हें जड़ जमाने से पहले कहीं और शिफ्ट कर दें।

वही घरों में सिर्फ सीजनल वृक्ष, बेल तथा झाड़ीदार पेड़ ही लगाना चाहिए। पपीते जैसे सीधे तथा नाजुक तनेदार पेड़ों को भी लगाया जा सकता है। घर में सिर्फ गमलों में लग सकने वाले वृक्षों को लगाएं। बोनसाई इसमें अत्यंत कारगर तरीका है। इससे आप वृक्ष की खूबियों का फायदा भी ले पाएंगे तथा घर के वास्तु पर भी असर नहीं पड़ेगा। इस बात का भी ख्याल रखें कि ऐसे पेड़ों से भी बचें जिनकी शाखा तने तथा पत्तों से दूधनुमा जहरीला चिपचिपा पदार्थ निकलता हो।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार