Breaking

शनिवार, 6 मार्च 2021

पेट्रोल-डीजल के दाम कम करना "धर्म संकट" से कम नहीं... वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

पेट्रोल-डीजल के दाम कम करना "धर्म संकट" से कम नहीं... वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण...





नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने सरकार के द्वारा बढ़ाए गए ईंधन की कीमत को लेकर बड़ा बयान दिया है। वित्त मंत्री ने कहा कि ईंधन की कीमतों को कम करना किसी भी सरकार के लिए किसी धर्म संकट से कम नहीं हैं, राज्य और केंद्र दोनों पेट्रोलियम उत्पादों (Petroleum products) पर राजस्व कमाते हैं और दोनों पक्षों को इस पर चर्चा करनी चाहिए।


सीतारमण ने भारतीय महिला प्रेस कोर’ कार्यक्रम के दौरान कहा कि इस मसले पर राज्यों और केंद्र दोनों को चर्चा करनी चाहिए क्योंकि सिर्फ केंद्र ही नहीं है पेट्रोलियम उत्पादों पर टैक्स लेता है, राज्यों की भी इसमें बराबर भागीदारी है।  उन्होंने कहा कि जब केंद्र राजस्व प्राप्त करता है, तो इसका 41 प्रतिशत राज्य में चला जाता है। यह राज्य है स्तरित मुद्दा और इसलिए मैं राज्य और केंद्र दोनों को इस पर चर्चा करनी चाहिए। वित्त मंत्री ने कहा कि अभी तक, उनकी किसी भी राज्य सरकार के साथ कोई चर्चा नहीं हुई है।


*मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार के मालिक की रहस्यमयी मौत...* *हत्या या आत्महत्या..???*


केंद्रीय बजट 2021 के बारे में बात करते हुए, सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि बजट में सरकार ने यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया कि योजनाओं का वितरण किस प्रकार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हमने यह भी सुनिश्चित किया कि हम इस अवसर का उपयोग करें कि महामारी  के बाद के सुधारों को जारी रखें।


*सिंग्रामपुर के राज्य स्तरीय जनजातीय सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि सम्मिलित होंगे..* *महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद...*


उन्होंने कहा कि सरकार इस बजट में भारतीय युवाओं को लाभान्वित करने के लिए अगले 20-25 वर्षों के लिए एक विस्तृत योजना लेकर आई है। उन्होंने कहा कि अगले 25 वर्षों के लिए, भारत में युवाओं की प्रतिभा का नीति-चालित परिदृश्य होना ज़रूरी है। बजट में भारत को विनिर्माण के हब के रूप में देखने से उद्यमियों, व्यवसायों बढ़ावा देना जरुरी हैं।


*इन शहरों में 8 मार्च से शुरू हो जाएगा..* *रात्रिकालीन कर्फ्यू...* *जानिए क्या है पूरा आदेश..??*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार