Breaking

बुधवार, 31 मार्च 2021

कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद.. इन खास बातों का रखें ध्यान..

कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद..
इन खास बातों का रखें ध्यान..




कोरोना वैक्सीन प्रत्येक शख्स को उसके प्रियजनों को तथा समुदाय के सभी व्यक्तियों को कोराना वायरस से बचा सकता है। यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को स्ट्रांग बनाता है तथा कोरोना वायरस से लड़ने में सहायता करता है। वैक्सीन लगवाने के पश्चात् यदि कोई शख्स कोरोना वायरस के कांटेक्ट में आता है तो वैक्सीन उसके शरीर की रक्षा करता है। साथ ही इससे वायरस से रोग होने अथवा स्थिति अधिक गंभीर होने पर जोखिम को बहुत हद तक कम किया जा सकता है। डायबिटीज रोगी को कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर बहुत संकट होता है। इसलिए यह आवश्यक है कि डायबिटीज पेशेंट स्वयं को इससे बचाने के लिए कोरोना वैक्सीन आवश्यक लगवाएं। डायबिटोलॉजिस्ट डॉक्टर अरूप दास गुप्ता कहते हैं कि डायबिटीज मरीजों को कोरोना वैक्सीन लेने के पश्चात् दो से तीन दिनों तक अपने ब्लड शुगर का बारीकी से ध्यान रखना आवश्यक है।




भारत में बनी सभी कोरोना वैक्सीन बहुत असरकारक हैं। वैक्सीन लगवाने के पश्चात् यदि आप किसी संक्रमित शख्स के कांटेक्ट में आ भी जाते हैं, तो आपके बीमार होने की संभावनाएं बहुत कम हो जाती है। कोरोना को पुरे विश्व में फैलने से रोकने के लिए विश्व भर के ज्यादातर व्यक्तियों को टीका लगवाया जा रहा है। टीका लगवाने के पश्चात् भी आपको अपनी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखना आवश्यक है। डायबिटीज पेशेंट को कोरोना वैक्सीन लेने के पश्चात् इन बातों का ख्याल रखना बेहद आवश्यक है।

मुम्बई में भयावह रूप लेता कोरोना संक्रमण..जानिए क्या है ताज़ा हालात...

- वैक्सीन लगने के पश्चात् भी आपको मास्क पहनना, हाथ धोना तथा सामाजिक दुरी जैसे नियमों का पालन करना आवश्यक है।
- वैक्सीन लगने के पश्चात् भी आपको अपने हाथों को बार-बार सैनिटाइज करना आवश्यक है।
- आपको अपने ग्लूकोज लेवल पर भी बहुत ध्यान देने की आवश्यकता होती है। इसकी आपको बार-बार जांच करवानी चाहिए।
- सभी प्रकार के संक्रमण ग्लूकोज के लेवल को बढ़ाते हैं इसलिए स्वयं को हाइड्रेट रखना बहुत आवश्यक है।
- अपने पास मधुमेह की बीमारी की दवाइयों का पूरा स्टॉक रखें।
- अपने रक्त शर्करा स्तर में गिरावट के हालात का प्रबंध करने के लिए पहले से ही इंतजाम करें।
- टीकाकरण के पश्चात् कुछ दिनों के लिए इंसुलिन का इंजेक्शन लगवाने से परहेज करें।
- एक सक्रिय जीवनशैली बनाएं।
- तनाव न लें तथा पर्याप्त नींद लें।


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।

विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार