Breaking

बुधवार, 24 फ़रवरी 2021

चाय की चाह.. जान न ले ले.. शहर में खप रही.. नकली चायपत्ती..

चाय की चाह.. जान न ले ले..
शहर में खप रही.. नकली चायपत्ती..





(राहुल तिवारी-जबलपुर)


सुबह उठने के बाद यदि सबसे पहली कोई चाहत होती है तो वह होती है चाय की चुस्कीयों की.... चाय ना केवल हर अमीर या गरीब के दैनिक दिनचर्या का मुख्य हिस्सा होता है । बल्कि इससे तरोताजगी भी महसूस होती है। फिर घर में कोई मेहमान आए या आप कहीं घूमने जाएं सबसे पहला जिक्र चाय का ही होता है । लेकिन क्या हो..?? जब आपके इस सब से मन पसंदीदा पेय में जहर घोलने का काम कर दिया जाए। यदि हम आपसे कहे कि आप सुबह उठकर सबसे पहले एक षड्यंत्र कारी जहर को पी रहे हैं तो आप क्या सोचेंगे...???

पढ़िए.. यह खास रिपोर्ट....


*रेत ठेकेदार को समझाने पहुंचे..* *BJP नेता की हुई धुनाई..* *"क्या..फीकी पड़ गई-शिवराज की दहाड़"*


शालीमार की नकली चाय पत्ती का जखीरा जप्त


मिलावटखोरों ने इस बार सबसे अहम पेय पदार्थ को अपना निशाना बनाया है वे जानते हैं कि हिंदुस्तान का व्यक्ति सुबह उठने के बाद सबसे पहले चाय की ही फरमाइश करता है लिहाजा इस बार इन लोगों ने चाय पत्ती में ही मिलावट कर डाली इस बात का खुलासा मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में हुआ जहां पर गोहलपुर थाना पुलिस ने बड़ी मात्रा में मिलावटी चाय पत्ती के भंडारण पर छापामार कार्यवाही की है उक्त स्थान से जबलपुर शहर के छोटे बड़े इलाकों में यह मिलावटी चाय पत्ती सप्लाई की जाती थी।


आपको बता दें कि पुलिस द्वारा या छापामार कार्यवाही बीते माह 25 जनवरी को की गई थी जहां से 622 पैकेट में भरी 360 किलोग्राम चाय पत्ती जप्त की गई थी जानकारों की मानें तो इसकी बाजार की कीमत तकरीबन ₹300000 आंकी गई थी।


*मीडिया से बदसलूकी करते दिखे..* *कपिल शर्मा....* *देखिए.. वायरल वीडियो.....*


मुंबई की मिलावटी चाय पत्ती का शहर में कारोबार


पुलिसिया कार्यवाही के बाद खाद्य विभाग के आला अधिकारियों को इस पूरे गोरखधंधे की जानकारी दी गई जिस पर मौके पर पहुंची खाद्य विभाग की टीम द्वारा उक्त चाय पत्ती की सैंपलिंग कराई गई सेंपलिंग रिपोर्ट आने के बाद गोहलपुर पुलिस ने आरोपी शकील अहमद और उसके साथी के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत धोखाधड़ी की धाराओं में मामला दर्ज किया है पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पकड़े गए आरोपी मुंबई शहर से इस नकली चाय पत्ती को लेकर आते थे और शहर के आसपास के क्षेत्रों में बेच दिया करते थे शालीमार चाय के नाम से खुले बाजार में परोसी जा रही इस नकली और जहरीली चाय पत्ती के मुंबई ठिकाने का भी पुलिस पता लगा रही है इसके अलावा इन्हीं धाराओं के तहत शालीमार चाय पत्ती के मालिक के खिलाफ भी मामला दर्ज कर आगे जांच शुरू की गई है।


*चीन मुद्दे पर राजनाथ सिंह की दहाड़* *'जब तक जिन्दा हूँ, कोई भारत की 1 इंच जमीन भी नहीं ले सकता...'*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार





  

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार