तुलसी की चटनी बढ़ाएगी इम्यूनिटी.. स्वास्थ्य और स्वाद का बेजोड़ बंधन..

तुलसी की चटनी बढ़ाएगी इम्यूनिटी..
स्वास्थ्य और स्वाद का बेजोड़ बंधन..





भारत के अधिकांश घरों में तुलसी के पौधे (Tulsi Plant) की पूजा की जाती है। हमारे ऋषियों को लाखों वर्ष पूर्व तुलसी के औषधीय गुणों का ज्ञान था इसलिए इसको को दैनिक जीवन में प्रयोग हेतु इतनी प्रमुखत से स्थान दिया गया है। आयुर्वेद में भी तुलसी के फायदों का विस्तृत उल्लेख मिलता है। 


*बाइक एंबुलेंस "रक्षिता" का शुभारंभ* *नक्सल क्षेत्रों में तत्काल मिलेगी स्वास्थ्य सेवा*


तुलसी एक औषधीय पौधा है जिसमें विटामिन (Vitamin) और खनिज प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। सभी रोगों को दूर करने और शारीरिक शक्ति बढ़ाने वाले गुणों से भरपूर इस औषधीय पौधे को प्रत्यक्ष देवी कहा गया है क्योंकि इससे ज्यादा उपयोगी औषधि मनुष्य जाति के लिए दूसरी कोई नहीं है। तुलसी के धार्मिक-महत्व के कारण हर-घर आगंन में इसके पौधे लगाए जाते हैं। तुलसी (Basil in Hindi) की कई प्रजातियां मिलती हैं। जिनमें श्वेत व कृष्ण प्रमुख हैं। इन्हें राम तुलसी और कृष्ण तुलसी भी कहा जाता है।


*मुरैना जहरीली शराब कांड का* *मुख्य आरोपी चेन्नई से गिरफ्तार*


आपने तुलसी की चाय तो पी होगी लेकिन कभी तुलसी की चटनी के बारे में सुना है क्या। क्या आप जानते हैं, औषधीय  गुणों से भरपूर तुलसी न सिर्फ सर्दी-जुकाम में राहत देती है बल्कि यह आपके खाने का जायका भी बढ़ा सकती है। तुलसी का उपयोग भोजन के साथ सर्व की जाने वाली चटनी के रूप में भी किया जाता है। तुलसी के पत्तों से बनी चटनी आपकी रोजमर्रा की कई छोटी-छोटी समस्‍याओं को भी जल्द दूर कर सकती है।


*प्रेमी के साथ मिलकर* *बेटी ने की पिता की हत्या* *फिर लाश की बदबू मिटाने* *डालती रही परफ्यूम..*


तो आइये हम यहां आपको बताएंगे कि तुलसी की चटनी किस तरह बनाई जाती है...


चटनी बनाने के लिए सामग्री

-तुलसी के पत्ते- 1/4 कप

-हरा धनिया- 1 कप

-अदरक- आधा इंच

-नमक- स्वादानुसार

-लाल मिर्च- 2

-हरी मिर्च-2

-ऑलिव ऑयल- 2 छोटे चम्मच

-नींबू का रस- 1 छोटा चम्‍मच

-टमाटर- 2


तुलसी की चटनी बनाने की विधि

तुलसी की चटनी बनाने के लिए सबसे पहले हरा धनिया और तुलसी के पत्तों को अच्‍छी तरह से धोकर एक बाउल में हरा धनिया, तुलसी के पत्ते, लाल मिर्च, अदरक, हरी मिर्च, ऑलिव ऑयल डालें। इसके बाद इसमें नींबू का रस और नमक भी मिला दें। सभी सामग्री को अच्छी तरह पीस लें। आपकी तुलसी की चटनी बनकर तैयार है। आप इस चटनी को पकौड़े, समोसे या भोजन के साथ भी सर्व कर सकते हैं।


*सरपंच सचिव की जोड़ी का कमाल..* *कब्रिस्तान की भूमि पर बना दिया पीएम आवास..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार





और नया पुराने