मकर संक्रांति में नर्मदा घाटों पर नहीं होगा "नोका संचालन"-कलेक्टर.. - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

मकर संक्रांति में नर्मदा घाटों पर नहीं होगा "नोका संचालन"-कलेक्टर..

मकर संक्रांति में नर्मदा घाटों पर नहीं होगा नोका संचालन-कलेक्टर..




मकर संक्रांति पर्व में इस बार श्रद्धालुओं के लिए नोका विहार पुर्णतः प्रतिबंधित रहेगा दरअसल इस साल नोका संचालन पर कलेक्टर ने रोक लगा दी है। साथ ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए है कि , आदेश का सख्ती से पालन करवाया जाए।हालांकि कलेक्टर ने अपने आदेश में गाँव के ग्रामीणों को परिवहन के लिए जरूर छूट दी है.......


*बर्ड-फ्लू-सेम्पल भोपाल लैब पहुँचाने..* *पिता-पुत्र ने 350 कि.मी किया बाईक से सफर..* *सीएम और पशु पालन मंत्री ने की सराहना..*


हाल ही में हुई नोका दुर्घटनाओं के चलते लिया फैसला




आपको बतादें की बीते कुछ माह में हुई दुर्घटनाओं को ध्यान में रखते हुए एहतियात के तौर पर यह फैसला लिया गया है। खंडवा-सिंगरौली सहित प्रदेश के कई जिलों में नाव पलटने की घटनाएं सामने आई है। इन सभी घटनाओं को दृष्टिगत रखते हुए जबलपुर जिला प्रशासन ने मकर संक्रांति पर्व के 14 व 15 जनवरी को नोका संचालन पर रोक लगा दी है,कलेक्टर कर्मवीर शर्मा का मानना है कि त्योहार के समय नर्मदा घाट पर भक्तो की भारी भीड़ उमड़ती है और इसी भीड़ में नाव दुर्घटनाए भी बढ़ जाती है,इस कारण से जिला प्रशासन ने 14 एवं 15 जनवरी को नाव संचालन में रोक लगा दी है.......


जानिए किन किन घाटों पर प्रतिबंधित होगा नोका संचालन




नोका संचालन के प्रतिबंधात्मक आदेशों को जारी करते हुए जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने नर्मदा के गवारीघाट-जिल्हारीघाट-लम्हेटाघाट और सरस्वतिघाट पर नोका संचालन नही किये जाने के आदेश दिए है।कलेक्टर ने अपने आदेश में पुलिस-नगर पंचायत और एसडीएम को इस आदेश का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए है,कलेक्टर ने अपने आदेश में गाँव के ग्रामीणों को नदी पार करने की जरूर छूट दी है।


मकर सक्रांति में नर्मदा घाट में उमड़ती है भक्तो की भीड़ .....




मकर संक्रांति का पर्व धार्मिक आस्था के अनुसार काफी महत्त्वपूर्ण मन जाता है। इस दिन स्नान दान और पूजन का विशेष महत्ता होता है। यही कारण है की जबलपुर के नर्मदा घाटों में मकर संक्रांति पर्व के समय नर्मदा भक्तो की भारी भीड़ उमड़ती है और उस भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस प्रशासन को अच्छी खासी मशक्कत भी करनी पड़ती है।


*यह है सिवनी की..* *स्टार बेटियां..* *जिन पर पूरे प्रदेश को है गर्व..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार