प्रेमी के साथ मिलकर बेटी ने की पिता की हत्या फिर लाश की बदबू मिटाने डालती रही परफ्यूम.. - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

प्रेमी के साथ मिलकर बेटी ने की पिता की हत्या फिर लाश की बदबू मिटाने डालती रही परफ्यूम..

प्रेमी के साथ मिलकर बेटी ने की पिता की हत्या फिर लाश की बदबू मिटाने डालती रही परफ्यूम..




कहते हैं इश्क का जुनून जब सर चढ़कर बोलता है तो प्यार में पागल इंसान किसी भी हद से गुजर जाने को तैयार रहता है कभी-कभी है पागलपन प्यार में डूबे इंसान को जाने अनजाने में अपराध के गलियारों तक पहुंचा देता है ऐसा ही एक बार क्या आज हम आपको बताने जा रहे हैं जिसमें बॉयफ्रेंड से मिलने और बातचीत करने से मना करने पर प्यार में पागल एक लड़की ने अपने ही पिता कि नेशंस हत्या कर दी। और फिर लैश को ठिकाने लगाने के दौरान शव की बदबू मिटाने परफ्यूम का सहारा लिया।आइए जानते है....पूरा वाक्या.....


*सरपंच सचिव की जोड़ी का कमाल..* *कब्रिस्तान की भूमि पर बना दिया पीएम आवास..*


जानिए कहां की है घटना...???


यह पूरी घटना मध्यप्रदेश के  बैतूल जिले से सामने आई है। जहां सारणी क्षेत्र के सुभाष नगर में रहने वाले श्रीराम हुरमाड़े को उनकी ही गोद ली हुई नाबालिक बच्ची ने अपने प्रेमी और उसके दोस्तों के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया। और फिर सभी ने मिलकर श्री राम हुरमाड़े के शव को घर के पीछे बनी एक वीरान झोपड़ी में छुपा दिया अपनी काली करतूतों का किसी को पता ना चले इसके चलते मृतक की दत्तक पुत्री ने शव में ढेर सारा परफ्यूम डाल दिया। ताकि शव से बदबू ना सके।

इस पूरी घटना के खुलासे के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गयी।


*अगर जनता के काम अटके..* *तो अधिकारियों पर गिरेगी गाज..* *राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर की चेतावनी*


प्रेमी से बात करने से रोकना पिता को पड़ा महंगा




प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक श्रीराम हुरमाड़े की गोद ली हुई नाबालिक पुत्री अपने पिता से काफी नाराज थी दरअसल पिता अक्सर अपनी बेटी को मोबाइल पर ज्यादा बातचीत करने से रोका करता था उसे इस बात की भनक थी कि उसकी बेटी  किसी लड़के प्रेम जाल में फंसी हुई है और दिन भर मोबाइल में उससे बातचीत करती रहती है इसी के चलते सख्ती दिखाते हुए पिता ने पुत्री को डांटा और मोबाइल पर लड़के से बातचीत करने के लिए मना किया। इसके साथ ही उसके बाहर घूमने फिरने पर भी पिता ने रोक लगा दी थी। खुद पर लगी बंदिशों से छुटकारा पाने के लिए बेटी ने अपने प्रेमी और उसके दोस्तों का सहारा लेते हुए अपने ही पिता को मौत के घाट उतार दिया और फिर उसकी लाश को कंबल में लपेट कर घर के पीछे बनी एक झोपड़ी में छुपा दिया। घटना की भनक लगते ही पुलिस भी मौका ए वारदात पर जा पहुंची और फिर अपनी जांच के दौरान सख्ती से पूछताछ करने पर इस पूरी वारदात का खुलासा हुआ बहरहाल पुलिस ने नाबालिग बेटी को हिरासत में लिया है और उसकी निशानदेही पर उसके तीन मित्रों को गिरफ्तार कर लिया है आरोपियों की पहचान 21 साल के अनवर खान 18 साल के शिखर और 20 साल के अनिल सोनारिया के रूप में हुई है।


*मंत्रियों को कोरोना वैक्सीन लगने पर* *जानिए क्या बोले...* *राजनाथ सिंह..*


मृतक के साले ने दी पुलिस को सूचना


मृतक श्रीराम हुरमाड़े का साला बबलू नागले ने पुलिस को जानकारी देते हुए बताया कि उसकी अपने जीजा श्री राम से 12 जनवरी से बातचीत नहीं हो पा रही थी जबकि 12 जनवरी के पूर्व उसने अपनी गोद ली हुई पुत्री के प्रेम प्रसंगों में फंसे होने और अपनी मनमानी करने का जिक्र किया हुआ था जिसे लेकर श्री राम काफी चिंतित भी थे। लेकिन आ जाना कि 12 जनवरी के बाद से उनसे कोई भी संपर्क नहीं हो पाया इसी दौरान पड़ोसियों को भी श्री राम के घर के पीछे से काफी बदबू आने की घटना का पता लगा लेकिन उनकी बेटी द्वारा किसी को भी घर के पीछे जाने नहीं दिया जा रहा था। जिस पर संदेह होने के चलते पुलिस में सूचना दी गई और फिर घटना का खुलासा हुआ।


*मंच पर माता सरस्वती की मूर्ति देख..* *बिखरा साहित्यकार...* *अवार्ड लेने से किया इनकार..* *जानिए क्या है पूरा मामला..*


प्रेमी और दोस्तों के साथ मिलकर की पिता की हत्या की प्लानिंग





बबलू श्रीराम के घर गया और उसने दरवाजा खुलवाकर झोपड़ी में देखा तो श्रीराम की लाश कंबल में लिपटी मिली। लाश देखते ही वो सन्न रह गया। उसने देखा कि शव के सिर पर चोट लगी थी और गला भी कटा हुआ था। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। जब मामले की हर पहलू से जांच हुई तब पता चला कि मृतक अपनी बेटी को प्रेमी और उसके दोस्तों के साथ घूमने मोबाइल फोन पर बात करने से मना करता था। इससे नाबालिक लड़की ने प्रेमी और दोस्तों के साथ प्लान करके अपने पिता को मौत की नींद सुला दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक के शव को घर के पीछे बनी झोपड़ी में छुपा दिया गया था और बदबू ना आए इसलिए परफ्यूम छिड़का गया। हत्या के इस प्रकरण में गोद ली हुई बेटी ही मास्टरमाइंड निकली। 


*TMC नेताओं ने सेटिंग से लगवा ली कोरोना-वैक्सीन* *मुंह देखते रह गए स्वास्थ्य कर्मी...* *कैलाश विजयवर्गीय बोले* *कोरोना वैक्सीन की हुई लूट !!!*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार