TMC नेताओं ने सेटिंग से लगवा ली कोरोना-वैक्सीन मुंह देखते रह गए स्वास्थ्य कर्मी... कैलाश विजयवर्गीय बोले कोरोना वैक्सीन की हुई लूट !!! - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

TMC नेताओं ने सेटिंग से लगवा ली कोरोना-वैक्सीन मुंह देखते रह गए स्वास्थ्य कर्मी... कैलाश विजयवर्गीय बोले कोरोना वैक्सीन की हुई लूट !!!

TMC नेताओं ने सेटिंग से लगवा ली कोरोना-वैक्सीन
मुंह देखते रह गए स्वास्थ्य कर्मी...
कैलाश विजयवर्गीय बोले
कोरोना वैक्सीन की हुई लूट !!!





कोरोना वैक्सीन के राष्ट्रव्यापी टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान एक और जहां स्वास्थ्य कर्मियों एवं सफाई कर्मियों को प्राथमिकता देते हुए पीके की पहली डोज लगाई गई वहीं दूसरी ओर बंगाल के पूर्व वर्धमान जिले में एक अलग ही नजारा देखने को मिला जहां 2 विधायकों सहित  तृणमूल कांग्रेस के के नेताओ ने कोविड 19 का टीका लगवाया।इस दौरान वहां उपस्थित कई स्वास्थ्यकर्मियों ने आरोप लगाया कि उन्हें टीका नहीं लगाया गया, जबकि उन्हें इसके लिए बुलाया गया था।


*मंच पर माता सरस्वती की मूर्ति देख..* *बिखरा साहित्यकार...* *अवार्ड लेने से किया इनकार..* *जानिए क्या है पूरा मामला..* *जरूर पढ़ें यह अजब- गजब मामला..*


जानिए किन किन नेताओ ने लगवाया कोरोना टीका...


जिला स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि ये नेता विभिन्न अस्पतालों से रोगी स्वास्थ्य समितियों के सदस्यों के तौर पर जुड़े हुए हैं, जिससे वे पहले दौर में टीकाकरण कार्यक्रम के लिए योग्य थे। भातर राज्य सामान्य अस्पताल में टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत हुई, जिसमें तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय विधायक सुभाष मंडल को पहला टीका दिया गया। इसके बाद पार्टी के पूर्व विधायक बनमाली हजरा, जिला परिषद् से जुड़े जाहर बागडी और भातर पंचायत समिति के जनस्वास्थ्य प्रभारी महेंद्र हजार ने भी टीका लगवाया। कटवा अनुमंडल अस्पताल में सत्तारूढ़ पार्टी के स्थानीय विधायक रबिंद्रनाथ चटर्जी उन 34 लोगों में शामिल रहे, जिन्हें पहले दिन टीका लगाया गया।


*कोविशील्ड और कोवैक्सीन की पूरी जानकारी...* *जानिए..कब..कैसे..और कहां तैयार की गई वैक्सीन...*


स्वास्थ्य कर्मियों को रास नहीं आई नेताजी की लूट


तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने जहां पहले दिन टीका लगवाया, वहीं जिले में कई स्वास्थ्यकर्मियों ने आरोप लगाया कि उन्हें टीका लगवाने के लिए बुलाया गया, लेकिन टीका नहीं लगाया गया। बर्धमान मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल की एक नर्स ने कहा कि उसे सुबह नौ बजे टीका लगवाने के लिए बुलाया गया और समय पर पहुंचने के बावजूद उसे टीका नहीं लगाया गया। अस्पताल की कुछ अन्य नर्सों ने भी नाम नहीं बताने की शर्त पर इसी तरह का आरोप लगाया।जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रणब राय ने कहा कि टीका लगवाने वाले जनप्रतिनिधि विभिन्न अस्पतालों में रोगी कल्याण समितियों में शामिल हैं।


*सट्टेबाजी के अड्डे में..* *क्राइम ब्रांच की दबिश..* *भनक लगते ही भागा-सरगना..*


भाजपा राष्ट्रीय महासचिव ने घटना को बताया कोरोना टीका की लूट


भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इस घटना को लूट करार दिया। उन्होंने ट्वीट किया कि कोरोना टीके की लूट हो गई। प्रधानमंत्री ने कोरोना योद्धाओं, स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम मोर्चे के कार्यकर्ताओं के लिए नि:शुल्क टीका भेजा, लेकिन पश्चिम बंगाल में टीएमसी के विधायकों, गुंडों ने जबरन टीके लगवा लिए। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने कम संख्या में टीके भेजे। उन्होंने ट्वीट किया कि यह शर्मनाक है। सत्तारूढ़ पार्टी के सांसद सौगत राय ने कहा कि बेहतर होता कि पार्टी नेताओं ने टीके नहीं लगवाए होते।


*महज एक सूर्य नमस्कार से* *मिलते हैं यह चमत्कारिक लाभ* *पढ़ें पूरी खबर..*


कैलाश विजयवर्गीय ने ट्विटर पर निकाली भड़ास




कोरोना वैक्सीन की हुई लूट !!!


देश के प्रधानमंत्री मोदीजी ने कोरोना वॉरियर्स, स्वास्थ्यकर्मियों एवं फ्रंटलाइन वर्कर के लिए फ्री कोरोना वैक्सीन भेजी। मगर प.बंगाल में #TMC विधायक और गुंडों ने जबरदस्ती वैक्सीन लगवा ली।


ममताजी का बयान कि मोदीजी ने वैक्सीन कम भेजी।


शर्म करो ममताजी!


*राहुल गांधी के बयानों पर..* *खुद कांग्रेसी लेते हैं मजे..* *नरेंद्र सिंह तोमर*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार