सरकारी जमीन में सरपंच का ढाबा.. फिर पीले पंजे ने कर दिया न्याय - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

सरकारी जमीन में सरपंच का ढाबा.. फिर पीले पंजे ने कर दिया न्याय

सरकारी जमीन में 
सरपंच का ढाबा..
फिर पीले पंजे ने कर दिया न्याय





(हाशिम खान -सिवनी)

एक बार गद्दी में बैठने के बाद जो सरकारी जमीन को अपनी संपत्ति समझने लगते हैं ऐसे राजनेताओं अधिकारियों और कर्मचारियों को सबक सिखाने के लिए सरकार ने एक नया ही दांव पेंच शुरू किया है। अब सरकारी कर्मचारियों की सांठगांठ और रसूख के दम पर किए गए कब्जे को प्रदेश में बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जा रहा है यही कारण है कि भू माफिया हो या फिर कोई अधिकारी यदि सरकारी जमीन पर कब्जा किया है तो फिर पीले पंजे का तांडव होना लाजमी है।


*जंगलों में सक्रिय है शिकारी..* *लेकिन वन विभाग की नहीं टूट रही नींद* *झाड़ियों में छिपाकर रखा बम खाने से* *मवेशी का जबड़ा फटा...*


सिवनी जिले में ढ़हाया गया सरपंच का अतिक्रमण




 माफिया अभियान के तहत शासकीय भूमि पर अतिक्रमण का ढाबा बनाने वाले सरपंच उनके भाई के ढाबे में प्रशासन ने चलाया बुलडोजर करीब 97 लाख की भूमि किया मुक्त। तहसीलदार प्रभात मिश्रा ने बताया कि चारागाह की जमीन पर अतिक्रमण कर ढाबा बनाया गया था जिसकी लगातार शिकायतें मिल रही थी जिस पर माफिया अभियान के तहत यह कार्यवाही की गई है सिवनी जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत गोरखपुर के राष्ट्रीय राजमार्ग से लगी भूमि पर यह अतिक्रमण था जिसको माफिया अभियान के तहत मुक्त कराया गया।


*ब्लाइंड बुक पब्लिकेशन का* *ब्लाइंड गेम* *युवाओं से की दो करोड़ की ठगी* *पढ़िए शहर में हुई 2 करोड़ की धोखाधड़ी की पूरी कहानी..विस्तार से*


वीडियो खबर देखने के लिए यहां क्लिक करें




नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार


पेज