MP के पूर्व CM मोती लाल बोरा का निधन.. 93 साल की उम्र में ली अंतिम सांस - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

MP के पूर्व CM मोती लाल बोरा का निधन.. 93 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

MP के पूर्व CM
मोती लाल बोरा का निधन..
93 साल की उम्र में ली अंतिम सांस...





कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा का 93 साल की उम्र में निधन हो गया है। खबरों के मुताबिक वोरा को रविवार रात को दिल्ली के फोर्टिस एस्कॉर्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां सोमवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। मोतीलाल वोरा ने कई वर्षों तक पत्रकारिता के क्षेत्र में काम किया और बाद में 1968 में राजनीति में प्रवेश किया था। वोरा ने रविवार (20 दिसंबर) को ही अपना 93वां जन्मदिन मनाया था।


*चुनावी घोषणा पर खुले..* *51 सरकारी कॉलेजों को..* *बंद कर रही..* *शिवराज सरकार..* *यहां जानिए आखिर क्या है ...राज़..*


जोधपुर रियासत में जन्मे थे मोतीलाल वोरा


मोतीलाल वोरा का जन्म 20 दिसंबर 1928 को नागौर (तब जोधपुर रियासत) में हुआ था। उनके पिता का नाम मोहनलाल वोरा और मां का नाम अंबा बाई था। उनका विवाह शांति देवी वोरा से हुआ था। उनके चार बेटियां और दो बेटे हैं। उनके बेटे अरुण वोरा दुर्ग से विधायक हैं और वे तीन बार विधायक रह चुके हैं।


*सीएम हेल्पलाइन से* *शिकायत हटवाने* *सीएमओ की धमकी* *कहा- 24 घंटे के अंदर हटा लो शिकायत* *वरना करवा दूंगा-FIR*


नेशनल हेराल्ड केस के चलते विवादों में रहे थे मोतीलाल बोरा


गौरतलब है कि नेशनल हेराल्ड न्यूज पेपर की संपत्ति के विवाद में मोतीलाल वोरा विवादों में भी रहे। इस केस को लेकर कोर्ट में अभी भी सुनवाई चल रही है। अभी तक कोई फैसला नहीं हुआ है। एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड, यंग इंडियन और ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी में शामिल तीनों संस्थाओं में मोतीलाल वोरा को महत्वपूर्ण स्थान मिला हुआ था। मोतीलाल वोरा 22 मार्च 2002 को एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक बने थे। उन्होंने इससे पहले भी ऑल इंडिया कांग्रेस कार्यसमिति के कोषाध्यक्ष के रूप में कार्य किया है। इसके अलावा मोतीलाल वोरा 12 फीसदी के शेयरधारक और युवा भारतीय निर्देशक भी थे।


*बंदूक की नोक पर खरीदी..* *शादी की शेरवानी..* *पढ़िए अनोखी लूट की दास्तान..*


राजनैतिक सफर के यादगार लम्हे


वोरा ने 1970 में मध्यप्रदेश विधानसभा से चुनाव जीता और उन्हें मध्यप्रदेश के सड़क परिवहन निगम के उपाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्हें 1977 और 1980 में मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए फिर से चुना गया और 1980 में अर्जुन सिंह कैबिनेट में उच्च शिक्षा विभाग के अध्यक्ष रहे।  मोतीलाल वोरा 1983 में कैबिनेट मंत्री बने और उन्हें मध्यप्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में भी नियुक्त किया गया। वे 13 मार्च 1985 से 13 फरवरी 1988 तक और 25 जनवरी 1989 से 9 दिसंबर 1989 तक दो बार मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। 2000 से 2018 तक (18 साल) कांग्रेस के कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी भी संभाली। 


*"शनि -बृहस्पति का संयुग्मन"* *दो सितारों का जमीं पर है मिलन* *आज की रात* *देखना ना भूलें यह अद्भुत खगोलीय घटना*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार




पेज