धान खरीदी केंद्र में हादसा.. युवती के गले का दुपट्टा.. थ्रेसर मशीन में फसने से मौत.. - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

धान खरीदी केंद्र में हादसा.. युवती के गले का दुपट्टा.. थ्रेसर मशीन में फसने से मौत..

धान खरीदी केंद्र में हादसा..
युवती के गले का दुपट्टा..
थ्रेसर मशीन में फसने से मौत..




(अमित श्रीवास्तव-सिवनी)


कान्हीवाड़ा थाना अंतर्गत ग्राम छुई स्थित धान खरीदी केंद्र में धान की सफाई कार्य के लिए लगी थ्रेसर मशीन में लगभग 20 वर्षीय युवती मजदूर के गले का दुपट्टा थ्रेसर मशीन के पंखे में फंस जाने से युवती की दम घुटने से मौत हो गई। धान खरीदी केंद्र में युवती की मौत से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। आसपास के लोगों ने थ्रेसर से युवती को किसी तरह से बाहर निकाला। दम घुटने से युवती की मौत की खबर जैसे ही माता-पिता को लगी वैसे ही अपनी इकलौती पुत्री की मौत में बदहाल अवस्था में माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। पुलिस ने फिलहाल मर्ग कायम कर विवेचना में लिया हैं।


*ब्लाइंड बुक पब्लिकेशन का* *ब्लाइंड गेम* *युवाओं से की दो करोड़ की ठगी* *पढ़िए शहर में हुई 2 करोड़ की धोखाधड़ी की पूरी कहानी..विस्तार से*


जानिए कौन है युवती..कैसे हुई वारदात..




छुई ग्राम के समीपस्थ गांव मानेगांव निवासी वर्षा कुमरे, पिता सुधीर कुमरे (20) मंगलवार को धान खरीदी केंद्र छुई में धान की सफाई करने मजदूरी कार्य में पहुंची थी। उसी गांव के दीपक पिता लक्ष्मण साहू की धान व थ्रेशर मशीन में सफाई कार्य जारी था। युवती मंगलवार को सुबह 11:00 बजे काम पर पहुंची थी। धान की सफाई का कार्य थ्रेसर में जारी था और लगभग 1 घंटे बाद दोपहर लगभग 12:00 बजे के आसपास थ्रेसर मशीन से धान की सफाई कर रही युवती के गले में डला दुपट्टा क्रेशर मशीन के पंखे में फस गया। पंखा में दुपट्टा फंसता चला गया और गले में दुपट्टा फांसी लगने की तरह जमकर कस गया। आसपास खड़े लोग युवती को बचाने तत्काल दौड़े। लोगों ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छुई ले जाया गया। इसके बाद सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंची। जहां युवती की मृत्यु हो जाने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कान्हीवाड़ा लाया गया जहां युवती का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपा गया।




*जंगलों में सक्रिय है शिकारी..* *लेकिन वन विभाग की नहीं टूट रही नींद* *झाड़ियों में छिपाकर रखा बम खाने से* *मवेशी का जबड़ा फटा...*


परिवार की इकलौती बेटी हादसे का शिकार..




युवती के पिता सुधीर कुमार ने बताया कि उनकी यह इकलौती पुत्री है और दो बेटे नागपुर में काम करते हैं। मंगलवार को सुबह छुई की धान खरीदी केंद्र में धान की सफाई करने प्रतिदिन 200 रुपये की मजदूरी पर काम पर आई थी। वहीं इस मामले में थ्रेसर व धान मालिक जितेंद्र साहू मानेगांव ने बताया कि मजदूरी कार्य में युवती को लाया गया था। युवती के गले में डाला दुपट्टा हवा के झोंके से दुपट्टा थ्रेसर मशीन के पंखे में फंसा जिससे उसकी मौत हो गई। परिजनों को आर्थिक रूप से पूरी मदद की जा रही है।


*सरकारी जमीन में* *सरपंच का ढाबा..* *फिर पीले पंजे ने* *कर दिया न्याय*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार



पेज