आखिर क्यों चीन और रूस ने नहीं दी Joe Biden को बधाई... - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

आखिर क्यों चीन और रूस ने नहीं दी Joe Biden को बधाई...

आखिर क्यों चीन और रूस ने नहीं दी 
Joe Biden को बधाई...




विश्व भर में बहुचर्चित अमेरिका के राष्ट्रपति का चुनाव संपन्न हो चुका है जिसे लेकर डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाईडन को देश भर से शुभकामनाओं के संदेश आ रहे हैं। लेकिन इन शुभकामना संदेश में के बीच विश्व स्तर के दो ऐसे देश हैं जिन्होंने अभी तक अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडन को शुभकामनाएं प्रेषित नहीं की है। आपको जानकर ताज्जुब होगा कि यह दोनों देश चीन और रूस...बाइडेन के निर्वाचन को फिलहाल स्वीकार नहीं कर रहे हैं और अब इन दो देशों की हरकतों को लेकर दुनिया भर में कई तरह की बातें की जा रही है।


*विधायक कांग्रेसी है* *इसलिए निगम नहीं कर रहा विकास कार्य..* *कुछ ऐसे ही आरोपों के साथ जनता ने किया निगम कार्यालय का घेराव..*


जो बाईडेन ने लहराया परचम


आपको बता दें कि डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाईडन ने रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 2020 के मुकाबले में करारी शिकस्त दी है और इस राजनीतिक जंग में उन्होंने अपना बहुमत का आंकड़ा हासिल कर लिया है इस बहुचर्चित चुनाव को जीतने के बाद जो बाईडन और कमला हैरिस को दुनिया भर से बधाई और शुभकामना संदेश मिल रहे हैं।


*शेयर बाजार में लौटी रौनक,* *उछाल मार रहे Sensex और Nifty* *शेयर बाजार से जुड़ी हर अपडेट के लिए जुड़े रहिए*


चीन ने किया बधाई संदेश देने से इंकार


अमेरिका के राष्ट्रपति पद का चुनाव जीतने वाले जो बाईडेन को चीन ने सोमवार को किसी भी तरह की शुभकामनाएं बधाई संदेश देने से स्पष्ट इनकार कर दिया है चीन के अनुसार अभी अंतिम फैसला आना बाकी है और जब तक अंतिम फैसला ना आ जाए तब तक वह जो बाइडेन को विजयी मानने से इंकार कर रहा हैं। फिलहाल चीन के अनुसार अंतिम फैसले के बाद ही आधिकारिक तौर पर कोई संदेश जारी किया जाएगा।

चीन ने कहा कि हम सहमत नहीं है, चुनाव का परिणाम अभी तय नहीं हुआ है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जो बाइडन ने राष्ट्रपति चुनाव का खुद को विजेता घोषित किया है। हमारा मानना है कि चुनाव का नतीजा अमेरिकी कानूनों और प्रक्रिया के मुताबिक तय होगा कौन बनेगा राष्ट्रपति।


*राजनीति का ऐसा चस्का..* *बेटे के विपक्षी पार्टी को वोट देने पर* *आग में फेंक दिए पोता-पोती..*


रूस के तेवर भी नहीं दिख रहे है ठीक


वहीं दूसरी ओर रूस ने भी अभी तक 

बाईडेन को चुनाव जीतने की मान्यता नहीं दी है। रूस ने ट्रंप की ओर से चुनाव में धांधली करने के आरोप लगाए जाने और कानूनी विकल्पों के इस्तेमाल का तर्क देते हुए कहा की  वह बाईडेन के चुनाव जीतने एवं राष्ट्रपति बनने की बात से सहमत नहीं है।


रूस ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में मेल इन वोटिंग ने मतदान धांधली की है, रूसी चुनाव आयोग की प्रमुख इला पामफिलोवा ने कहा कि ट्रंप ने मेल-इन वोटिंग प्रक्रिया का का पूरा अध्ययन रखा है और इस चुनावी प्रक्रिया में धांधली की पूरी गुंजाइश है। गौरतलब है कि ट्रंप भी मेल-इन बैलेट्स का विरोध कर चुके थे।


*Donald Trump की नीतियों को सिमटाने...* *योजना बना रहे Joe Biden* *जानिए क्या है रणनीति..??*

 

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार




पेज