जानिए आखिर ऐसा क्या कारण था जो केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन से मांगा गया इस्तीफा - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

जानिए आखिर ऐसा क्या कारण था जो केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन से मांगा गया इस्तीफा

जानिए आखिर ऐसा क्या कारण था

 जो केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन से

 मांगा गया इस्तीफा




केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन को लेकर दर्जनभर से अधिक छात्र संगठनों ने उनके इस्तीफे की मांग की है मामला एलएसआर कॉलेज की एक छात्रा के आत्महत्या से जुड़ा हुआ है। जिसे लेकर छात्र संगठनों में खासा आक्रोश देखा जा रहा है। छात्र संगठनों के अनुसार जब तक मृत छात्रा को न्याय नहीं मिलता और मांगे पूरी नहीं होती तब तक लगातार आंदोलन जारी रहेंगे छात्र संगठन चाहते हैं कि केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन घटना की पूर्ण जिम्मेदारी लें और तुरंत ही नैतिक आधार पर अपना इस्तीफा दें


यहां समझिए क्या है मामला..??


आपको बता दें कि दिल्ली के एलएसआर कॉलेज छात्र संघ व अन्य छात्र संगठनों ने केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन का इस्तीफा मांगते हुए बीते दिनों विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है गौरतलब हो कि एलएसआर कॉलेज की एक छात्रा ऐश्वर्या ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली थी तेलंगाना निवासी ऐश्वर्या 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं में राज्य टॉपर थी वह विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा दिए जाने वाले इंस्पायर छात्रवृत्ति योजना के लिए चुनी गई थी। दिल्ली एसएफआई दिल्ली के अध्यक्ष सुमित कटारिया ने कहा

"मार्च के बाद जब छात्रों और उनके अभिभावकों को आर्थिक तंगी से जूझना पड़ा मंत्रालय ने छात्रवृत्ति की राशि को रोक रखा लॉकडाउन और छात्रवृत्ति की राशि ना होने के कारण ऐश्वर्या ने आत्महत्या का कदम उठाया हम ऐश्वर्या की आत्महत्या के लिए मंत्रालय एवं संबंधित मंत्री डॉ हर्षवर्धन को जिम्मेदार मानते हैं साथ ही आत्महत्या को एक पिछड़े पृष्ठभूमि से आने वाली होनहार छात्रा की संस्थागत हत्या मानते हैं"


 वहीं सोमवार को ऐश्वर्या की मृत्यु के विरोध प्रदर्शन में एलएसआर छात्र संघ की सचिव उन्नीमाया जेएनयू ए एस यू अध्यक्ष आईसी घोष तथा एसएफआई राज्य सचिव मंडल सदस्य और पूर्व एलएसआर छात्रा कामरेड मोनिका मौजूद रहे


एलएसआर छात्र संघ महासचिव उन्नीमाया ने कहा कि 


"उनके द्वारा लगातार छात्र संघ की तरफ से प्रशासन को छात्रों की हालत के प्रति आगाह कराया गया था इसके बावजूद भी प्रशासन की नींद नहीं टूटी"


वह इस पूरे मामले को लेकर जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईसी घोष ने बयान देते हुए कहा कि

" यह सरकार मार्च से ही छात्रवृत्ति नहीं दे रही है ऐश्वर्या की मौत इसी कारण हुई है डॉक्टर हर्षवर्धन को नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने मंत्री पद से तत्काल ही इस्तीफा दे देना चाहिए"


इस पूरे मामले को लेकर छात्र संगठन अब मंत्रालय के साथ आर पार की लड़ाई लड़ने को तैयार है। अपनी विभिन्न मांगों के साथ उन्होंने यह मंशा जाहिर की है कि ऐश्वर्या के परिवार को अविलंब छात्रवृत्ति राशि तथा उचित मुआवजा मुहैया कराया जाए साथ ही सारी बकाया छात्रवृत्ति राशि तुरंत जारी की जाए ताकि आर्थिक तंगी में फंसे और किसी छात्र को आत्मघाती कदम उठाने मजबूर ना होना पड़े।


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार




पेज