कुरकुरे खिलाने के बहाने.. बच्ची का अपहरण.. फिर गला घोट कर.. कर दी मासूम की हत्या.. - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

कुरकुरे खिलाने के बहाने.. बच्ची का अपहरण.. फिर गला घोट कर.. कर दी मासूम की हत्या..

कुरकुरे खिलाने के बहाने..

बच्ची का अपहरण.. 

फिर गला घोट कर.. 

कर दी मासूम की हत्या..




वर्तमान का समय इस कदर खतरनाक हो गया है कि यदि आपके घर में छोटे बच्चे हैं। तो आपको हो गैरों से कम और अपनों से ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। हो सकता है यह बात आपको विचलित कर दे। लेकिन बीते माह हुई घटनाओं से यदि सीख ली जाए तो यह बात 100 फ़ीसदी खरी उतर रही है । क्योंकि हर घटना में बच्चों के साथ हैवानियत करने वाला कोई गैर या बाहरी नहीं बल्कि परिवार से ही घुला मिला व्यक्ति होता है। आज की कहानी में भी एक ऐसे ही हैवान का जिक्र है। जिसने अपने भाई से भी बढ़कर दोस्त की 6 साल की मासूम बच्ची को सिर्फ इसलिए मार डाला क्योंकि दोस्त की पत्नी ने उसे सरेआम डांट दिया था। आइए जानते हैं हैवानियत की कहानी खुद हैवान की जुबानी...


खबरों में आगे पढ़ें :- *भाजपा के इन दिग्गज नेताओं पर लगा..* *गद्दारी करने का आरोप..* *जारी हुआ नोटिस...* *यहां जानिए किनपर चला संगठन का चाबुक*


कहां का है मामला...

कैसे दिया गया घटना को अंजाम..




यह सनसनीखेज मामला मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के अंतर्गत आने वाले लखनादौन थाना अंतर्गत ग्राम सहजन का है। जहाँ 6 साल की बच्ची की निर्मम हत्या कांड का पुलिस ने बुधवार को पर्दाफाश किया है। जिसमें मासूम बच्ची के पिता का रिस्तेदार व दोस्त ही हत्यारा निकला है। पुलिस ने धारा 302, 201 के तहत मामला दर्ज कर आरोपित को कोर्ट में पेश किया जहां उसे जेल भेज दिया गया है।


एक खबर ऐसी भी...*ऐसा क्या हुआ जो..??* *करवा चौथ की तैयारी में लगी..* *महिला ने कर ली आत्महत्या...*


कौन है यह आरोपी..?? 

आखिर बच्ची से क्या है नाता..??


लखनादौन एसडीओपी आरएन परतेती ने बताया कि मासूम बच्ची का पिता दशरथ परते एवं आरोपी अर्जुन पिता सुरेश मर्सकोले (22) दोनों अक्सर शराब पीकर घूमते थे। दोनों में काफी गहरी दोस्ती थी और आरोपी अर्जुन बच्ची के पिता को मामा की तरह मानता था। 1 नवंबर को भी अर्जुन अपने मुंह बोले मामा दशरथ के साथ शराब पीकर घूम रहा था। इसी दौरान दशरथ की पत्नी ने अर्जुन को कड़े लहजे में अपने पति के साथ शराब न पीने की बात कही। इस बात से अर्जुन को काफी गुस्सा आया। इस बात को काफी गंभीरता से लेते हुए अर्जुन ने इसे अपने स्वाभिमान के साथ जोड़ लिया और फिर बच्ची की मां को सबक सिखाने का मौका तलाशने लगा।


अजब गजब ख़बर:- "कमबख्त स्पीड ब्रेकर" *आखिर पकड़वा ही दी..* *1 लाख की अवैध शराब...* *चौकिये मत..पढ़िए पूरी ख़बर*


2 नवंबर को अचानक लापता हुई बच्ची


दशरथ की पत्नी दशरथ और उसके मुंह बोले भांजे अर्जुन कि आए दिन शराब खोरी से काफी त्रस्त थी जिस बात को लेकर अक्सर घर में लड़ाई होती थी लेकिन घटना वाले दिन अचानक दशरथ परते कि 6 साल की बच्ची लापता हो गई।

मासूम बच्ची की मां हेमलता ने 2 नवंबर को थाना में जाकर बच्ची के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस आधार पर पुलिस ने एसपी के निर्देशन में तलाश शुरू की शक के आधार पर सहसना गांव के अर्जुन पिता सुरेश मर्सकोले को हिरासत में लेकर पूछताछ की। और फिर एक के बाद एक कड़ी जुड़ती गई।


*आंटी शब्द सुनते ही* *महिला ने की लड़की की पिटाई* *करवा चौथ की खरीदी करने आई थी महिला..* *पढ़िए ये दिलचस्प किस्सा*


आरोपी ने बताई हैवानियत की दास्तान 




पुलिस ने अर्जुन से जब सख्ती से  पूछताछ की तब अर्जुन ने दशरथ की पुत्री की हत्या करने की बात कबूली। आरोपी ने बताया कि बदला लेने की नीयत से उसने मासूम बच्ची को मौत के घाट उतार दिया। वहीं घटना के विषय में आरोपी ने बताया कि शाम को जब वह शराब पीकर लौट रहा था, तब दशरथ की पुत्री आंगन में खेलती मिली वह उसे अपने साथ पहले किराना दुकान में ले गया। जहां कुरकुरे का पैकेट लेकर दिया। कुरकुरे खिलाकर बच्ची को वह भदभदा रोड ले गया। जहां गला घोट कर हत्या कर दी। साथ ही शव को घास में छुपा दिया।


*आखिर आ ही गया..* *निजी स्कूलों की मनमानी पर..* *लगाम लगाने वाला प्राधिकरण..*


आरोपी की निशानदेही पर हुई शव की बरामदगी




बच्ची की बेरहमी से हत्या करने वाले आरोपी अर्जुन ने पुलिस की सख्ती के सामने तोते की तरह मुंह खोलना शुरू कर दिया उसने ना केवल जुर्म कुबूल किया बल्कि पुलिस के साथ जाकर शव की बरामदगी भी करवाई। आरोपी अर्जुन मर्सकोले की निशान देही के अनुसार बच्ची का शव बरामद कर लिया गया और पंचनामा की कार्यवाही कर शव को परीक्षण हेतु शासकीय चिकित्सालय भेज कर उक्त अपराध मैं धारा 302 ,201 आईपीसी बढ़ाकर न्यायालय को सोप दिया गया।


*क्या.. आपका भी इनसे पड़ा है पाला..* *रिश्वतखोरी की दीमक से* *खोखला हो रहा...* *जबलपुर विकास प्राधिकरण...*


इनकी रही सराहनीय भूमिका




घटना की गम्भीरता को देखते हुए सिवनी पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने लखनादौन अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस)लखनादौन आर, एन, परतेती को अज्ञात आरोपी को गिरप्तारी का आदेश दिया। जिस पर तत्परता दिखाते हुए महज 24 घंटे के अंदर ना केवल इस अंधी हत्या का खुलासा हुआ बल्कि आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया गया इस पूरी कार्यवाही में आरोपी की निशानदेही पर बच्ची के शव को बरामद कर लिया गया है। इस हत्याकांड का पर्दाफाश करने में लखनादौन एचडीओपी आरएन परतेती, थाना प्रभारी नवीन जैन, एस आई तेकाम, सहायक उपनिरीक्षक हरि सिंह पटेल, प्रधान आरक्षक जगदीश घोड़ेश्वर, आरक्षक संदीप, अमित, चेतन, मोंटी, धनेश्वर, नेहा, भोलेश्वरी, दशरथ आदि का सराहनीय सहयोग रहा।


*साहब..बंदूक की नोक पर* *जमीन हथिया रहे रेत माफिया..* *ग्रामीण महिलाओं ने लगाई कलेक्टर से गुहार..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार





पेज