कलेक्टर साहब का फरमान बिना मास्क वालों को 10 घंटे की जेल - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

कलेक्टर साहब का फरमान बिना मास्क वालों को 10 घंटे की जेल

कलेक्टर साहब का फरमान
बिना मास्क वालों को 10 घंटे की जेल




कोरोना संक्रमण को लेकर देशभर में मास्क लगवाने जाने के लिए मुहिम चलाई जा रही कहीं बैनर तो कहीं पोस्टर और कहीं टीवी रेडियो विज्ञापन के जरिए लोगों के अंदर मास्क लगाने की जागरूकता फैलाई जा रही है सरकार द्वारा मास्क के प्रति जागरूकता लाने के लिए कई सरकारी अभियान भी चलाए जा रहे है। लेकिन इन सबके बीच अधिकतर क्षेत्रों में आमजन की लापरवाही के चलते संक्रमण का खतरा और भी फैलता जा रहा है इन्हीं हालातों के मध्य नजर एक कलेक्टर महोदय ने ऐसा फरमान भी जारी किया है जिसे लेकर आम जनता में चर्चाओं का माहौल काफी गर्म हो चला है फरमान के अनुसार यदि घर से बिना मास्क के बाहर निकले तो 10 घंटे के लिए जेल में डाल दिए जाएंगे। आइए जानते हैं कहां का है यह  फरमान....


*आस्था का महापर्व छठ हुआ शुरू..* *लेकिन अभी तक नहीं हुई..* *घाटों की सफाई, लोगों में आक्रोश*


जानिए कहां जारी हुआ.. मास्क ना पहनने पर सख़्ती का फरमान..


एमपी को यूंही अजब-गजब नहीं कहा जाता है बल्कि यहां और इसके आसपास होने वाली घटनाएं एमपी को अपने आप ही अजब-गजब क्षेत्र बना देते हैं इस बार यह पूरा मामला भी मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले से सामने आया है। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में हुए आम चुनाव के दौरान राजनीतिक फायदा लेने के लिए ताबड़तोड़ रैलियां भी हुई और कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाने में भी सरकार नाकामयाब रही। आमजन की लापरवाही के चलते मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। मध्य प्रदेश में आज 1209 नागरिक पॉजिटिव पाए गए। इंदौर में दीपावली की रिकॉर्ड बिक्री की धुन में एक ज्वेलर्स ने ढिलाई बरती और अपने ही 33 कर्मचारियों को संक्रमित करवा डाला। इस सब को देखते हुए उज्जैन के कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का फैसला लिया है।


*दिल्ली में इस बार* *सार्वजनिक रूप से नहीं हो सकेगी* *छठ पूजा* *दिल्ली हाईकोर्ट ने भी दी सहमति..*


 बिना फेस मास्क वालों को 10 घंटे की जेल




बुधवार को अधिकारियों की बैठक में उज्जैन कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अब तक सबसे कारगर उपाय मास्क ही है। लेकिन इसे लेकर आम जनता की लापरवाही क्षेत्र में संक्रमण के प्रसार का प्रमुख कारण बनती जा रही है और जल्द ही इस लापरवाही पर लगाम नहीं लगाई गई तो पूरा क्षेत्र कोरोना संक्रमितों का हब बन जाएगा। उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने

 एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल से कहा कि 19 नवंबर से मास्क लगाकर नहीं चलने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जाए।

कलेक्टर ने बिना मास्क घूमने वालों को खुली जेल में 10 घंटे की सजा देने और जुर्माना लगाने के निर्देश दिए।


*देश की राजधानी में* *लॉक-डाउन-2* *वैवाहिक उत्सवों की जारी हुई गाइडलाइन..*


होम आइसोलेशन की गाइडलाइन तोड़ने वालों पर होगा महामारी एक्ट के तहत मामला दर्ज 


उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने कोविड-19 की समीक्षा बैठक के दौरान  अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी खास तौर पर यह सुनिश्चित करें कि सार्वजनिक स्थलों और कार्यालयों में कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन हो इसके साथ ही

जो लोग होम आइसोलशन में हैं और वे सड़क पर घूमते मिले, तो उनके विरुद्ध महामारी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया जाए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महावीर खंडेलवाल को निर्देश देते हुए कलेक्टर ने कहा कि होम आइसोलेशन वाले मरीजों की उनके घर टीम भेजकर जांच कराई जाए। कोविड अस्पतालों में मरीजों को परेशानी न हो।

उन्होंने रोज 750 सैंपल की जांच का लक्ष्य रखने का निर्देश दिया। बैठक में एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी, एएसपी अमरेंद्र सिंह समेत सभी एसडीएम व मजिस्ट्रेट मौजूद रहे।


*गौ रक्षा संकल्प हेतू..* *गौ केबिनेट का गठन..* *शिवराज सरकार बना रही और भी शक्तिशाली गौ-कैबिनेट* *जानिए इस बार क्या है खास..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार





पेज