राजनीति का ऐसा चस्का.. बेटे के विपक्षी पार्टी को वोट देने पर आग में फेंक दिए पोता-पोती.. - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

राजनीति का ऐसा चस्का.. बेटे के विपक्षी पार्टी को वोट देने पर आग में फेंक दिए पोता-पोती..

राजनीति का ऐसा चस्का..
बेटे के विपक्षी पार्टी को वोट देने पर
आग में फेंक दिए पोता-पोती..




राजनीति का चस्का ही इस है जनाब अगर एक बार लग जाये तो उतारे नहीं उतरता.. फिर चाहे वो नेता का हो या आम जनता का। आपने अक्सर राजनीतिक पार्टियों के अंध भक्तों के विषय मे सुना ही होगा।जो अक्सर गली मोहल्ला में अपनी पार्टी के पक्ष में विवाद करते फिरते है। लेकिन आज के इस लेख में हम आपको एक ऐसे पार्टी समर्थक की कहानी सुनाएंगे । जिसने अपने घर मे ही पार्टी की चाहत के चलते मासूम पोता पोतियों को जलते चूल्हे में फेंक दिया। आप भी पढ़ें ये रोचक दास्तान....


यहां पढ़ें :- Donald Trump की नीतियों को सिमटाने... योजना बना रहे Joe Biden जानिए क्या है रणनीति..??


जानिए आखिर कहां का है मामला...


ये पूरी वारदात राजस्थान के धौलपुर की है। जहां गढ़ी लज्जा क्षेत्र में पंचायती चुनावों का माहौल गर्म है। जिसकी आंच भोगीराम कुशवाहा के घर तक पहुंच गई। दरअसल भोगी राभ कुशवाहा अपने बेटे  और उसके परिवार के साथ रहता है। पंचायती चुनाव के दौरान दौनो ने ही अलग अलग उम्मीदवार को वोट दिया था।इसी बात को लेकर दौनो के बीच बीते दिनों जमकर विवाद हुआ। विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्साए दादा भोगीराम ने अपने ही 3 पोता पोती को पास ही जल रहे चूल्हे की आग में फेंक दिया।


*पूर्व मंत्री के आरटीओ आंदोलन पर..* *संगठन की नाराजगी..* *हरेन्द्रजीत सिंह (बब्बू) को मिला अनुशासनहीनता का नोटिस..* *तो..क्या अब थम जाएगा आंदोलन..?*


पूरी घटना को इस तरह से समझें...


गढ़ी लज्जा में पंचायत के सरपंच के चुनाव संपन्न हुए थे। इस चुनाव के दौरान पिता भोगी राम और पुत्र शिव सिंह ने सरपंच पद के लिए अलग-अलग उम्मीदवारों को अपना वोट दिया था। चुनाव के नतीजे आने के बाद बेटे शिव सिंह का उम्मीदवार जीत गया इस बात को लेकर पिता भोगी राम और बेटे शिव सिंह के बीच आए दिन विवाद होने लगा शनिवार की शाम को पिता भोगी राम शराब पीकर घर पहुंचा और अपने पुत्र शिव सिंह के साथ विवाद करने लगा विवाद के दौरान दोनों के बीच मारपीट भी हुई इसी जद्दोजहद में भोगी राम ने शराब के नशे में अपने तीन पोती पोता 9 वर्षीय बेटी राखी और दो बेटे अजय व विजय जो पास ही में बैठकर  खाना खा रहे थे। उन्हें देखकर विवाद के चलते भेागीराम को इतना आक्रोशित हो गया कि उसने चूल्हे के पास खाना खा रहे तीनों मासूम बच्चों को चूल्हे की आग में झोंक दिया। शिवसिंह और अन्य परिवार वाले कुछ समझ पाते, इससे पहले ही जलते चूल्हे में गिरने से तीनों बच्चे बुरी तरह झुलस गए।


*मुसीबत में Computer baba* *अवैध आश्रम ज़मीदोज़* *विरोध करने पर हुई जेल*


गंभीर हालत में झुलसे बच्चों को जिला अस्पताल किया रेफर


चूल्हे की आग में बच्चों के झुलसने पर घर में अफरा-तफरी और हड़कंप मच गया। झुलसने से घायल हुए बच्चों और परिजनों की चीख सुनकर आसपास रहने वाले ग्रामीण भी मौके पर पहुंच गए। परिवार वाले तीनों झुलसे बच्चों को उपचार के लिए गांव से सैंपऊ सीएचसी ले गए, जहां उनका इलाज शुरू किया गया। बाद में बच्चों का इलाज कर रहे डॉक्टर ने तीनों की हालत गंभीर देखी तो उन्हें जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। फिलहाल बच्चों का उपचार जारी है। 


*MP के Cyber-Thugs..* *अमेरिकी नागरिकों से करोड़ों की ठगी* *जानिए कैसे..??* *देशी जुगाड़ से विदेशियों को लगा रहे थे चपत..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार




 




पेज