दिलीप बिल्डकॉन की दरियादिली घायल कर्मचारी को दी लाखों की सहायता राशि - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

दिलीप बिल्डकॉन की दरियादिली घायल कर्मचारी को दी लाखों की सहायता राशि

दिलीप बिल्डकॉन की दरियादिली

घायल कर्मचारी को दी लाखों की सहायता राशि


Dilip-Buildcon-gives-4-lakhs-assistance-to-injured-employee


कंपनी और कर्मचारियों के बीच अक्सर ऊंच-नीच भेदभाव का रोना चला आ रहा है लेकिन इन सबके बीच कुछ संस्थान ऐसे भी होते हैं जो अपने कर्मचारियों को परिवार का हिस्सा बना कर उनके हर सुख दुख में बराबरी के साथ खड़े होते है। फिर चाहे संबंधित मामला संस्थान से जुड़ा हो या ना हो । ऐसा ही एक नजारा मध्य प्रदेश में देखने को मिला जहां एक कंपनी ने सड़क दुर्घटना में घायल हुए अपने एक कर्मचारी को 431000 रुपए की सहायता राशि देते हुए। उसके परिवार में खुशियां भर दी है। आइए जानते हैं कौनसा है यह संस्थान और किस तरह आई एक कर्मचारी के घर खुशियों की बहार....


*क्या वाकई चाइना ने बना ली..* *कोरोना की सुपर वैक्सीन..??* *लाखों में आजमाया..* *नहीं हुआ साइड इफ़ेक्ट..*


कहां का है मामला.. कौन है संस्थान..??


Dilip-Buildcon-gives-4-lakhs-assistance-to-injured-employee


मामला मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले का है जहां पर दिलीप बिल्डकॉन अपने कर्मचारियों की हितग्राही पॉलिसियों के लिए काफी चर्चा में है। यहां के कार्यरत कर्मचारियों की माने तो इस संस्थान में सभी कर्मचारियों का विशेष ध्यान रखा जाता है और संस्था हर एक कर्मचारी के साथ हर परिस्थिति में खड़ी रहती है ।कंपनी के अधिकारी और डायरेक्टर के आपसी सामंजस्य का ही नतीजा है कि यहां काम करने वाला हर एक कर्मचारी अपने आप को कोई मुलाजिम नहीं बल्कि कंपनी परिवार का एक सदस्य मानता है।


*कांग्रेसी नेता के अवैध कार्यालय पर..* *दौड़ी निगम की जेसीबी..* *गज्जू सोनकर पर कसता जा रहा..* *प्रशासन का शिकंजा...*


सड़क दुर्घटना में घायल कर्मचारी का कंपनी ने दिया साथ...


Dilip-Buildcon-gives-4-lakhs-assistance-to-injured-employee


कंपनी के अधिकारी कर्मचारियों की एकजुटता और एक दूसरे के सुख दुख में खड़े होने का नजारा...कंपनी में कार्यरत ड्राइवर कमला प्रसाद वैश्य के रोड एक्सीडेंट होने के बाद देखने को मिला ।जिससे कंपनी और कंपनी के कार्यकर्ता समस्त कर्मचारीयों ने आगे बढ़कर अपना सराहनीय योगदान दिया। दुर्घटना होने के बाद से ही कंपनी ने घायल परिवार का सहारा बनते हुए हर पल उनका ख्याल रखा। इस दौरान कंपनी के अधिकारी घायल परिवार से सतत संपर्क में रहे और हर संभव सहायता करने का विश्वास दिलाते हुए पीड़ित परिवार का साहस बढ़ाते रहें।


*देखिए कैसे..??* *पलक झपकते ही..* *महिला ने पार कर दी सोने की चैन..* *सीसीटीवी में कैद हुई हाथ की सफाई..*


जानिए कैसे हुई घटना और कैसे घायल हुआ कर्मचारी


 घटना दिनांक 5 /09/2020 की है जिसमें ड्राइवर कमला प्रसाद वैश्य अपने कार्य के दौरान ऑन ड्यूटी होते हुए भी बिना जानकारी दिए खदान से बैढ़न जा रहे थे । तभी एक अज्ञात वाहन से उसकी टक्कर हुई। जिसके बाद उसको तत्काल इलाज के लिए नेहरू अस्पताल ले जाया गया जहां चोट की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टर द्वारा उनको बनारस रिफर किया गया ।चूंकि कर्मचारी का एक्सीडेंट खदान क्षेत्र से बाहर होने के कारण इंश्योरेंस कंपनी द्वारा इंश्योरेंस राशि देने से मना कर दिया गया। इंश्योरेंस कंपनी के मना करने के बाद ड्राइवर कमला प्रसाद और उसके परिवार पर उपचार का बोझ आ गया पहले से ही आर्थिक संकट से जूझ रहा परिवार अब यह सोच रहा था कि परिवार के मुखिया का उपचार और परिवार का भरण पोषण कैसे हो पाएगा। क्योंकि घटना संस्थान से काफी दूरी पर हुई थी इसलिए घायल कर्मचारी इसका क्लेम भी कंपनी से नहीं मांग सकता था।

इसके बावजूद इलाज का पूरा खर्च दिलीप बिल्डकॉन कंपनी द्वारा किया गया इस घटना के बाद कंपनी के समस्त कर्मचारी द्वारा मानवता का उदाहरण देते हुए अपनी तरफ से पीड़ित व उसके परिवार को सहयोग राशि देकर सहायता की।


*बेईमान अधिकारियों के खिलाफ..* *भाजपा विधायक का हल्ला बोल..* *अपनी ही सरकार के खिलाफ खड़े हो गए* *विधायक दिनेश राय मुनमुन..*


क्षेत्रीय विधायक के हाथों घायल कर्मचारी को दिया गया लाखों का चेक..


Dilip-Buildcon-gives-4-lakhs-assistance-to-injured-employee


दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के जयंत प्रोजेक्ट द्वारा सिंगरौली में एक सड़क दुर्घटना में घायल हुए अपने कर्मचारी को राहत पहुंचाते हुए 431000 रुपए की  राशि देते हुए पीड़ित परिवार को सहायता प्रदान किए जाने का काम किया गया है। उपरोक्त सहायता राशि का चेक एक विशेष कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रीय विधायक श्री राम लल्लू वैश्य द्वारा घायल कर्मचारी और उसके परिजनों को दिया गया इस दौरान आयोजन में दिलीप बिल्डकॉन और जयंत प्रोजेक्ट के तमाम वरिष्ठ अधिकारी कर्मचारी और क्षेत्रीय जन मौजूद रहे।


*65 वर्षीय वृद्ध ने बनाया..* *5 साल की मासूम को..* *अपनी हवस का शिकार..*


इस अवसर पर जयंत परियोजना के वरिष्ठ महाप्रबंधक श्री रामाशीष चटर्जी ने जानकारी देते हुए कहा कि


हम कंपनी में एक परिवार की तरह कार्य करते हैं और कंपनी में काम करने वाला हर एक कर्मचारी मेरे परिवार का एक सदस्य है ऐसे में यदि परिवार के किसी सदस्य पर कोई आफत आती है तो हम पहले भी उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हुए हैं और आगे भी उनकी सहायता के लिए खड़े होते रहेंगे।

 

आगे पढ़ें :- *ढेड़ साल से नहीं गया शौचालय..* *रोजाना खाता है 18-20 रोटियां..* *पढ़िए आशीष चांदिल की अनोखी दास्तान..*


वही दिलीप बिल्डकॉन की जयंत परियोजना के प्रबंधक मयूर तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि


कंपनी के लिए कर्मचारी की सुरक्षा सर्वोपरि है कंपनी का प्रथम लक्ष्य अपने कर्मचारी को सुरक्षित रखना है। कंपनी पॉलिसी के अनुसार हम अपने प्रत्येक कर्मचारी के प्रति सकारात्मक सोच एवं कर्मचारी हित के लिए ही कार्य कर रहे हैं और आगे भी कंपनी की पॉलिसी के अनुसार इसी तरह काम किया जाएगा।

 

जरूर पढ़ें :- *सेना की वर्दी पहन बन गया मेजर* *और कि करोड़ों की ठगी* *जानिए कौन है यह..??* *9वीं पास नटवर लाल..*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार


पेज