ढेड़ साल से नहीं गया शौचालय.. रोजाना खाता है 18-20 रोटियां.. पढ़िए आशीष चांदिल की अनोखी दास्तान.. - Vikas ki kalam,जबलपुर न्यूज़,Taza Khabaryen,Breaking,news,hindi news,daily news,Latest Jabalpur News

Breaking

ढेड़ साल से नहीं गया शौचालय.. रोजाना खाता है 18-20 रोटियां.. पढ़िए आशीष चांदिल की अनोखी दास्तान..

ढेड़ साल से नहीं गया शौचालय..

रोजाना खाता है 18-20 रोटियां..

पढ़िए आशीष चांदिल की अनोखी दास्तान..


unique-boy-has-not-gone-to-the-toilet-for-18-months-is-still-healthy.


मेडिकल साइंस भले ही कितनी तरक्की कर ले लेकिन मानव शरीर की जटिलता के कुछ अंश आज भी उसकी समझ के परे है। और एहि कारण है कि कुछ लोगों के अंदर चमत्कारिक बदलाव हो जाते है। जिन्हें आधुनिक विज्ञान  जेनेटिक डिसऑर्डर के नाम से पहचानता है। आपने कई चमत्कारी इंसानों के बारे में जरूर सुना होगा। जैसे एक इंसान जिसके शरीर से करंट निकलता है। चुम्बक वाला इंसान,कम्प्यूटर से भी तेज दिमाग की प्रतिभा,या फिर एक इंसान जो कुछ भी खा सकता है,वगैरह... वगैरह..

ऐसे अदभुत इंसानों के किस्से लाखों में है। लेकिन आज हम बात करने जा रहे है एक ऐसे बालक की जिसने 18 महीने से शौच (मल-त्याग) ही नहीं किया है। आवर इस दौरान उसकी खाने की क्षमता भी कम नहीं हुई बल्कि वह रोजाना 18-20 रोटियां और पूरा खाना खा रहा है।

आइए जानते है क्या है मामला....


ख़बरों में आगे पढ़ें :-*65 वर्षीय वृद्ध ने बनाया..* *5 साल की मासूम को..* *अपनी हवस का शिकार..*


कहाँ का है मामला..क्या है कहानी..??


unique-boy-has-not-gone-to-the-toilet-for-18-months-is-still-healthy.


यह अनोखा मामला मध्यप्रदेश के मुरैना जिले से सामने आया है। जहां सबजीत पूरा के एक गरीब परिवार का निर्वाहन करने वाले मनोज चांदिल का 16 वर्षीय पुत्र बीते ढेड़ साल से शौच पर ही नही गया है। इस बात को लेकर पूरा परिवार काफी चिंतित है। ऐसा नहीं है कि मनोज ने अपने पुत्र का इलाज नहीं करवाया बल्कि वह जिले भर के हर एक डॉक्टर का दरवाजा खटखटा चुका है लेकिन हर बार डॉक्टर इसे एक गंभीर बीमारी बताकर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं।

*बेईमान अधिकारियों के खिलाफ..* *भाजपा विधायक का हल्ला बोल..* *अपनी ही सरकार के खिलाफ खड़े हो गए* *विधायक दिनेश राय मुनमुन..*


रोजाना खा जाता है 18 से 20 रोटियां


unique-boy-has-not-gone-to-the-toilet-for-18-months-is-still-healthy.


एक 16 साल के लड़के को बेहद अजीबोगरीब हालात से गुजर ना पड़ रहा दावा किया जा रहा है कि आशीष ने पिछले 18 महीनों से मल त्याग नहीं किया है और इस दौरान उसकी भूख में भी काफी इजाफा हुआ है वह प्रतिदिन अपने नियमित आहार से अधिक 18 से 20 रोटियां खा जाता है । इसके बावजूद भी उसके डीलडोल  शरीर  या पेट में कोई भी समस्या नहीं है । वह प्रतिदिन एक स्वस्थ युवक की भांति अपने सारे कामों को अंजाम दे रहा है यह बात और है कि अभी उसे किसी भी तरह की कोई शारीरिक समस्या नहीं है लेकिन हालातों को देखते हुए उसके परिजन काफी परेशान हैं परिजनों का कहना है कि कहीं ऐसा ना हो कि उसका बेटा किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हो और आगे चलकर कोई अनहोनी घटना घट जाए।


*देखिए कैसे..??* *पलक झपकते ही..* *महिला ने पार कर दी सोने की चैन..* *सीसीटीवी में कैद हुई हाथ की सफाई..*


अनोखी बीमारी का पता लगाने में चिकित्सक भी हुए नाकाम


unique-boy-has-not-gone-to-the-toilet-for-18-months-is-still-healthy.


बेटे के डेढ़ साल से शौचालय ना जाने की बात से परेशान परिजनों ने क्षेत्रों उसके आसपास के कई नीम हकीम से लेकर अनुभवी चिकित्सकों तक बेटे का इलाज करवाया है लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी बाद में परिजनों ने मुरैना भिंड ग्वालियर के कई डॉक्टरों को भी दिखाया और इस अजीबोगरीब बीमारी का पता लगाने के लिए काफी जांच भी करवाई लेकिन अभी तक इस बीमारी का कोई भी पता नहीं चल पाया है। अंततः कई चिकित्सक और शिशु रोग विशेषज्ञ बीमारी की जानकारी के लिए बड़ी जांच कराने की बात कह रहे हैं बहरहाल इस संबंध में कोई भी डॉक्टर बिना जांच के कोई संभावना व्यक्त करना उचित नहीं समझ रहा।


पढ़ना न भूलें :- *कांग्रेसी नेता के अवैध कार्यालय पर..* *दौड़ी निगम की जेसीबी..* *गज्जू सोनकर पर कसता जा रहा..* *प्रशासन का शिकंजा...*


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार





पेज