Breaking

मंगलवार, 6 अक्तूबर 2020

#वायरल-वीडियो-विक्टोरिया.. मरीज के परिजनों ने खोली.. अस्पताल प्रबंधन की पोल... जानिए पूरा मामला... सिर्फ..विकास की कलम..पर

#वायरल-वीडियो-विक्टोरिया..

मरीज के परिजनों ने खोली..

अस्पताल प्रबंधन की पोल...

जानिए पूरा मामला...

सिर्फ..विकास की कलम..पर


Vikas ki kalam,jabalpur news,top news,breaking news,taza khabar,mp news,jabalpur hulchal, crime news,mp politics,jabalpur kisaan,  jabalpur education news, implement news,khulasa news,shivraj singh chouhan, narendra modi,amit shaah,MP BJP,MP Congress, kamalnath,digvijaya singh, विकास की कलम,जबलपुर न्यूज़,ताजा खबर,ब्रेकिंग न्यूज़ जबलपुर.जबलपुर क्राईम, जबलपुर पर्दाफाश,जबलपुर जॉब न्यूज़, ताज़ा ख़बर, शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश, राजनीति, बेरोजगारी, आम जनता।


कोरोना संक्रमण जैसे गंभीर हालातों के बीच प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन सरकारी अस्पतालों में पूरी तरह की व्यवस्थाओ के होने की की बाते कर रहा है। लेकिन इसकी जमीनी हकीकत को बयां करने वाला एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। जहां मरीज को अस्पताल ले जाने के बाद वार्ड में ना तो डॉक्टर थे ना नर्स, ना ही कोई स्टाफ। इतना ही नहीं अस्पताल में ऑक्सीजन की भी व्यवस्था नहीं थी लिहाजा मरीज के परिजनों ने स्वयं से ऑक्सीजन की व्यवस्था कर मरीज को राहत पहुंचाई।


Read-more...आईपीएल के सटोरियों पर पुलिस की दबिश


कहां का है मामला क्या है घटना..???




मामला मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले का है । जहां संभाग के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल विक्टोरिया में अव्यवस्था देखी गयी।जबलपुर में वायरल हुआ वीडियो सेठ गोविन्द  दास विक्टोरिया अस्पताल का है। जहां  वीडियो में एक मरीज़ को सांस लेने में तकलीफ होने के चलते हैं विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती करने ले जाया गया था। लेकिन जब मरीज़ के परिजन अस्पताल के वार्ड में पहुंचे तो वार्ड में ना कोई स्टॉफ़ था ,ना डॉक्टर, ना ही नर्स मौजूद थी । प्राप्त जानकारी के अनुसार मरीज़ फूटाताल का निवासी है। जिसको साँस लेने में तकलीफ होने के चलते विक्टोरिया अस्पताल ले जाया गया था। मरीज को वार्ड नंबर २ सक्सपेड वार्ड में भर्ती किया गया । वहां ऑक्सीजन का कोई इंतिज़ाम नहीं था। लिहाजा मरीज को साँस लेने में तकलीफ बढ़ता  देख परिजनों ने अपना खुद का ऑक्सीजन लगाना पड़ा।


वायरल_वीडियो...भाषण में नेताजी ने कही...मोदी को बम से उड़ाने की बात


अस्पताल के रंग ढंग देखकर मरीज को घर ले आए परिजन

Vikas ki kalam,jabalpur news,top news,breaking news,taza khabar,mp news,jabalpur hulchal, crime news,mp politics,jabalpur kisaan,  jabalpur education news, implement news,khulasa news,shivraj singh chouhan, narendra modi,amit shaah,MP BJP,MP Congress, kamalnath,digvijaya singh, विकास की कलम,जबलपुर न्यूज़,ताजा खबर,ब्रेकिंग न्यूज़ जबलपुर.जबलपुर क्राईम, जबलपुर पर्दाफाश,जबलपुर जॉब न्यूज़, ताज़ा ख़बर, शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश, राजनीति, बेरोजगारी, आम जनता।


सरकारी अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाओं को देखकर मरीज के परिजन दंग रह गए। वही स्टाफ का नदारद होना मरीज के परिजनों को भयभीत कर रहा था। गौरतलब हो कि मरीज के परिजनों ने अपना ही ऑक्सीजन सिलेंडर अस्पताल में लगाया था ।ताकि मरीज को सांस लेने में तकलीफ ना हो। अगर परिजन अपना ऑक्सीजन ना ले जाते तो मरीज की जान जा सकती थी।परिजनों ने अस्पताल की अव्यवस्था देखी तो परिजन मरीज़ को चादर में लिटा के अस्पताल से वापस घर ले गए। वही परिजनों का आरोप है, की  अगर अस्पातल में रुकते तो मरीज़ के साथ कुछ भी हो सकता था जान भी जा सकती थी ।


ख़बर जबरदस्त... स्टेशन में करोड़ों रुपये के साथ पकड़ा गया आरोपी...हवाला कारोबारी होने की आशंका...


मरीज के परिजन ने बताई आपबीती


मरीज़ के परिजन ने बताया जब वो अपने पिता को लेकर विक्टोरिया अस्पताल लेकर  पहुंचे तो वार्ड में कोई इंतिज़ाम ना होने से सब हम अपने पिता को 4 नंबर वार्ड में लेकर गए। वह पूरा वार्ड खाली था। ना नर्स मौजूद थे ,ना डॉक्टर, ना स्टॉफ़। जब अस्पातल में ही पूरी व्यवस्था ना मिले तो क्या भरोसा करे किसी डॉक्टर या नर्स का। वही परिजनों द्वारा अस्पताल के डॉक्टरों के ऊपर दुर्व्यवहार का भी आरोप लगाया जा रहा है। कि सरकारी अस्पताल के डॉक्टर, स्टॉफ़ मरीजों से सही से बात नहीं करते जिसके चलते परिजनों को काफी परेशान होने के बाद मरीज़ को चादर में लपेट कर  वापस ले जाना पढ़ा..


अच्छी ख़बर...Care by Collector...सिर्फ एक मैसेज से होगी समस्या हल..


 क्षेत्रीय पार्षद ने बनाया वीडियो - कलेक्टर सहित कई आला अधिकारियों को किया पोस्ट


वही सूचना पर पहुचे क्षेत्रीय पार्षद गुड्डू नवी ने खुद मामले को देखा। सरकारी अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाओं को देखते हुए पार्षद गुड्डू नबी ने मौजूदा हालातों का एक वीडियो बनाया और उसे कलेक्टर सहित कई आला अधिकारियों को पोस्ट किया। पार्षद गुड्डू नबी ने जानकारी देते हुए कहा कि निजी अस्पतालों और सरकारी अस्पतालों के बीच कमीशन बाजी का खेल चल रहा है जानबूझकर सरकारी अस्पतालों में इलाज में हीला हवाली की जाती है ताकि मरीज के परिजन उन्हें निजी अस्पतालों में ले जा सके जहां निजी अस्पताल इलाज के नाम पर मरीजों से लाखों रुपए की वसूली कर सकें।


वीडियो के वायरल होते ही एक्टिव हुआ अस्पताल प्रबंधन सीएमएचओ ने की स्टाफ पर कार्यवाही


Vikas ki kalam,jabalpur news,top news,breaking news,taza khabar,mp news,jabalpur hulchal, crime news,mp politics,jabalpur kisaan,  jabalpur education news, implement news,khulasa news,shivraj singh chouhan, narendra modi,amit shaah,MP BJP,MP Congress, kamalnath,digvijaya singh, विकास की कलम,जबलपुर न्यूज़,ताजा खबर,ब्रेकिंग न्यूज़ जबलपुर.जबलपुर क्राईम, जबलपुर पर्दाफाश,जबलपुर जॉब न्यूज़, ताज़ा ख़बर, शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश, राजनीति, बेरोजगारी, आम जनता।
मामले का वीडियो वायरल होते ही आला अधिकारियों की नींद उड़ गई। आनन-फानन में कार्यवाही को करने का दिखावा किए जाने लगा।  मामले में जब सीएमएचओ रत्नेश क़ुरारिया से बात की गयी तो उन्होंने बताया वीडियो मेरे संज्ञान में आया था। मरीज़ को साँस लेने में तकलीफ की शिकायत थी मरीज़ कोविड वार्ड में कैसे चला गया इसकी जांच की जा रही है और ड्यूटी पर स्टॉप[ नर्स नहीं थे उनके ऊपर कार्यवाही कर दी गयी है।


नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..


ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम

चीफ एडिटर

विकास सोनी

लेखक विचारक पत्रकार



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार