सिर्फ कागजों में बंट रहा राशन... कलेक्टर के पहुंचते ही खुली पोल... - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

सिर्फ कागजों में बंट रहा राशन... कलेक्टर के पहुंचते ही खुली पोल...

सिर्फ कागजों में बंट रहा राशन...
कलेक्टर के पहुंचते ही खुली पोल...
Jabalpur news,taza khabaren

शहर की राशन दुकान में राशन आया और बंट भी गया....??
फिर आखिर क्षेत्र की जनता क्यों है परेशान....??
क्यों भूखे मरने के बन रहे हालात...??
आखिर दर दर क्यों भटक रहा आम आदमी...??

इन सभी सवालों का जबाब ढूढ़ने... आज कलेक्टर साहब खुद ही क्षेत्र भ्रमण पर निकल पड़े..मामला मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले का है। जहां लंबे समय से राशन दुकान संचालकों की कालाबाजारी की शिकायतें आ रही थी।उन सभी शिकायतों का जमीनी जायज़ा करने कलेक्टर भरत यादव ने आज धन्वन्तरि नगर रोड स्थित उचित मूल्य दुकान का आकस्मिक निरीक्षण किया ।

कलेक्टर के पहुंचते ही मचा हड़कंप
Breaking news,jabalpur news,taza khabaren

कलेक्टर भरत यादव के पहुंचते ही घपले बाजों की सांसें थम गई। कलेक्टर साहब ने दुकान का पूरा मुआयना किया।
और यहाँ मिली अनियमितताओं को देखते हुये इस दुकान को तत्काल निलंबित करने के निर्देश खाद्य विभाग के अधिकारियों को दिये  ।

क्या खामियां आयी सामने..

 कलेक्टर भरत यादव के आकस्मिक निरीक्षण के दौरान इस उचित मूल्य दुकान पर न तो कहीं दुकान होने का बोर्ड पाया गया और खाद्यान्न की दरों का उल्लेख भी नहीं था । यहाँ तक की काफी समय देने के बावजूद उचित मूल्य दुकान का सेल्समेन कलेक्टर को माह जुलाई में प्राप्त आबंटन और उपभोक्ताओं को वितरित राशन की जानकारी तक नहीं दे पाया । कलेक्टर भरत यादव ने इन सब कमियों को देखते हुए मौके पर मौजूद खाद्य निरीक्षकों को भी जमकर फटकार लगाई ।

खाद्य निरीक्षकों की भी ली क्लास

उन्होंने खाद्य निरीक्षकों से पूछा कि आखिर वे कर क्या रहे हैं उचित मूल्य दुकानों की ये सब कमियाँ उन्हें क्यों दिखाई नहीं देती । कलेक्टर ने खाद्य निरीक्षकों को उचित मूल्य दुकान को तत्काल निलंबित कर इसके उपभोक्ताओं को दूसरी दुकान से अटैच करने के निर्देश दिये । उन्होंने राशन वितरण में अनियमितताओं की मिलने वाली शिकायतों पर तत्काल कार्यवाही करने के हिदायत भी खाद्य अधिकारियों को दी । श्री यादव ने कहा कि अनियमितता बरतने वाली उचित मूल्य दुकानों के खिलाफ कार्यवाही में देर हुई तो क्षेत्र के खाद्य निरीक्षक के विरुद्ध एक्शन लिया जायेगा।

कलेक्टर ने किया राशन दुकान का आकस्मिक निरीक्षण...कितने उपभोक्ताओं को राशन बाँटा नहीं बता पाया सेल्समेन...दुकान निलंबित करने के निर्देश.   

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..

ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।

विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार