Breaking

मंगलवार, 23 जून 2020

मोबाइल एप से होगी आँगनवाड़ी केन्द्रों की निगरानी

मोबाइल एप से होगी
आँगनवाड़ी केन्द्रों  की निगरानी


महिला-बाल विकास विभाग द्वारा आँगनवाड़ी केन्द्रों द्वारा दी जा रही सेवाओं की गुणवत्ता सुनिश्चित करने और उनकी सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आधारित वास्तविक समयबद्ध निगरानी के लिये कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर CAS का उपयोग किया जा रहा है। इस मोबाइल एप के माध्यम से आँगनवाड़ी केन्द्रों में आयोजित होने वाली समस्त गतिविधियों की जानकारी दर्ज की जाती है।
प्रदेश में अब तक कुल 16 जिलों में 27 हजार 817 स्मार्ट फोन, सिम, एस.डी. कार्ड, इंटरनेट डाटा प्लान उपलब्ध करवाया जा चुका है। शेष 36 जिलों की 69 हजार 318 आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं पर्यवेक्षकों को इस सॉफ्टवेयर के उपयोग का चरणबद्ध रूप से जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

क्या है ?? कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर

कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के उपयोग के लिये है। इसके संचालन के लिये प्रत्येक कार्यकर्ता को एक स्मार्ट फोन एवं सिम कार्ड प्रदान किया गया है। इस एप्लीकेशन से आँगनवाड़ी केन्द्र में पंजीकृत सभी बच्चों एवं गर्भवती और धात्री माताओं के नाम दर्ज होते हैं। इस एप्लीकेशन के माध्यम से आँगनवाड़ी केन्द्र की जानकारी वास्तविक समय में उच्च स्तर तक देखी जा सकती है। इस एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के आने से आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दस अलग-अलग रजिस्टर से मुक्ति मिली है। एप के माध्यम से आँगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा केन्द्र खोला है या नहीं, कौन-सा बच्चा कुपोषित है और उसे क्या सेवा दी जा रही है, इसकी जानकारी पर्यवेक्षक से लेकर राज्य स्तर तक देखी जा सकती है।

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..

ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।

विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

नोट-विकास की कलम अपने पाठकों से अनुरोध करती है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें..



ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें। साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए।


विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार