मध्यप्रदेश का पहला थर्मल ईमेज स्केनर जबलपुर में लगाया गया है। संसद राकेश सिंह ने दी सौगात... - VIKAS KI KALAM,Breaking news jabalpur,news updates,hindi news,daily news,विकास,कलम,ख़बर,समाचार,blog

Breaking

मध्यप्रदेश का पहला थर्मल ईमेज स्केनर जबलपुर में लगाया गया है। संसद राकेश सिंह ने दी सौगात...

मध्यप्रदेश का पहला थर्मल ईमेज स्केनर जबलपुर में लगाया गया है। संसद राकेश सिंह ने दी सौगात...

वीडियो खबर देखने के लिए यहां क्लिक करें..


 कोरोना संक्रमण की आपाधापी के बीच जबलपुर शहर के लिए एक बेहद राहत भरी खबर है  जी हां अब  कोरोना संक्रमण  को जांचने परखने के लिए  चिकित्सकों को  मरीज के करीब नहीं जाना होगा  बल्कि वे 5 मीटर की दूरी से  मरीज  का परीक्षण कर पाएंगे  यह  बेहद सुरक्षित और  आसान तरीका है  और इससे चिकित्सक और पीड़ित दोनों व्यक्तियों को सहूलियत होगी। मध्यप्रदेश का पहला थर्मल ईमेज स्केनर जबलपूर में लगाया गया है। इस स्केनर को शहर के चार शासकीय अस्पतालो में कोरोना संक्रमण की स्केनिंग के लिए लगाया गया है। जबलपूर साँसद निधि से इन चार थर्मल इमेज स्क्रेनर जिला चिकित्सालय विक्टोरिया, मेडिकल अस्पताल, एल्गिन अस्पताल और रेलवे अस्पताल में लोगो की स्केनिंग के लिए लगाया गया है।
 जबलपुर शहर  चार अस्पतालो लगाए गए  ये थर्मल इमेज स्केनर 23 अप्रैल से काम करना शुरू कर देंगे।  थर्मल इमेज स्केनरो को जबलपूर सांसद निधि से खरीदा गया है।एडवांस टेक्नोलॉजी वाले इन स्केनर से 5 मीटर की दूरी से लोगो के तापमान और इमेज को रेकॉर्ड किया जा सकता है। इसके अलावा इस स्केनर से एक साथ कई लोगो के शरीर का तापमान मापा जा सकता है। थर्मल इमेज स्केनर के लाग्ने से कोरोना कोविड-19 के संक्रमित व्यक्तियों का आसानी से पता लगाया जा सकेगा। इसके अलावा इन शासकीय अस्पतालो के आईसोलेशन वार्ड में  कोरोना पॉजिटिव मरीजो का उपचार करने वाली नर्सो, और डॉक्टर्स   का भी तापमान थर्मल इमेज स्केनर से लिया जा सकेगा। 

विकास की कलम
चीफ एडिटर
विकास सोनी
लेखक विचारक पत्रकार